Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डूमरतराई की दुकानें 46 लाख में बिकीं, डंगनिया चौक का रेट आया पांच लाख

रायपुर नगर निगम द्वारा शहर के अलग-अलग 10 स्थानों पर बनाए गए 176 दुकानों के लिए खोले गए टेंडर में सबसे ज्यादा पूछपरख डूमरतराई की दुकानों की रही। सबसे ज्यादा रेट प्रति दुकान 46 लाख रुपए में बिका। यहां कुल सात दुकानें कारोबारियों के लिए बनाई गई हैं। सबसे कम रेट डगनिया चौक की दुकानों का रहा। यहां 5 लाख प्रति दुकान का रेट आया। कुल 8 दुकानें डगनिया चौक में नगर निगम ने चार साल पहले बनाई थीं। इसके साथ ही जवाहर बाजार, मंगलम कांप्लेक्स की दुकानें, कंकालीपारा कांप्लेक्स की दुकानों के भी खरीदार निगम को मिले हैं।

डूमरतराई की दुकानें 46 लाख में बिकीं, डंगनिया चौक का रेट आया पांच लाख
X

रायपुर. रायपुर नगर निगम द्वारा शहर के अलग-अलग 10 स्थानों पर बनाए गए 176 दुकानों के लिए खोले गए टेंडर में सबसे ज्यादा पूछपरख डूमरतराई की दुकानों की रही। सबसे ज्यादा रेट प्रति दुकान 46 लाख रुपए में बिका। यहां कुल सात दुकानें कारोबारियों के लिए बनाई गई हैं। सबसे कम रेट डगनिया चौक की दुकानों का रहा। यहां 5 लाख प्रति दुकान का रेट आया। कुल 8 दुकानें डगनिया चौक में नगर निगम ने चार साल पहले बनाई थीं। इसके साथ ही जवाहर बाजार, मंगलम कांप्लेक्स की दुकानें, कंकालीपारा कांप्लेक्स की दुकानों के भी खरीदार निगम को मिले हैं।

सामान्य सभा में आएगा प्रस्ताव

बाजार विभाग द्वारा इन दुकानों के नीलामी के संबंध में प्रस्ताव अब सामान्य सभा में स्वीकृति के लिए भेजा जाएगा। नियमानुसार पहले इसमें एमआईसी की मुहर लगेगी। इसके बाद सामान्य सभा से मंजूरी मिलने के बाद राज्य शासन के पास स्वीकृति के लिए भेजा जाएगा।

43 दुकानों का अपेक्षा अनुरूप आया रेट

बाजार विभाग ने शनिवार को नगर निगम द्वारा निर्मित 176 दुकानों का टेंडर खाेला, जिसमें 43 दुकानों के रेट अपेक्षा के अनुरूप आए। विभाग के अधिकारी सबसे ज्यादा अचंभित इस बात को लेकर हैं कि डूमरतराई की सात दुकानें इस बार हाथो-हाथ बिक गईं। सबसे ज्यादा रेट यहां की दुकानों के लिए प्राप्त हुए। एक दुकान 46 लाख रुपए में बिकी। डूमरतराई में 7 दुकानों के लिए टेंडर निकाला गया। जबकि सबसे कम रेट प्रति दुकान 5 लाख रुपए डगनिया के बाजार चौक की दुकानों के लिए सामने आई। हालांकि यह दर आफसेट प्राइज से ज्यादा है।

नंबरिंग में फर्क

दो स्थानों पर नगर निगम द्वारा निर्मित दुकानों के टेंडर को छोड़ दिया गया है। इनमें नेताजी सुभाष स्टेडियम की नवनिर्मित दुकानें, गांधी मैदान के कांजी हाउस हाउस के समीप दुकानें शामिल हैं। इन दुकानों की नंबरिंग में फर्क आया है।

जवाहर बाजार की 66 दुकानें अग्रसेन चौक की 8 दुकानें बिक गईंं

नवनिर्मित जवाहर बाजार के 66 दुकानें एक ही झटके में बिक गई। ग्राउंउ फ्लोर की 4 दुकानों के लिए टेंडर होना बाकी है। इसके साथ ही प्रोजेक्ट प्रभावित कारोबारियों के लिए 68 दुकानें अलग से बनाई गई हैं। दो अलग-अलग साइज में निर्मित इन दुकानों को व्यवस्थापन के तहत जवाहर बाजार के व्यवसायियों को आवंटित किया जाना है। समता कालोनी के अग्रसेन चौक के मंगलम कांप्लेक्स में 8 दुकानें, कंकालीपारा कांप्लेक्स की तीन दुकानों के खरीदार मिल गए हैं।

Next Story