Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

विदेशों से आ रहे यात्रियों से ख़तरा, छग आए यात्रियों की फ्लाइट में था ओमिक्रॉन पॉजिटिव

यूके, यूएस से वापस लौटे तीनों यात्री राजधानी के, पच्चीस दिन में छत्तीसगढ़ पहुंचे 21 सौ विदेश यात्री। रायगढ़ जिले में कनाडा से लौटा पॉजिटिव व्यक्ति अपनी साली की शादी में इस बात को किसी को बताये बगैर समारोह में शामिल हो गया था। 150 का लोकेशन ट्रेस नहीं। पढ़िए पूरी ख़बर...

विदेशों से आ रहे यात्रियों से ख़तरा, छग आए यात्रियों की फ्लाइट में था ओमिक्रॉन पॉजिटिव
X

रायपुर: कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन की दहशत के बीच वापस रायपुर लौटे तीन यात्रियों की निगरानी बढ़ा दी गई है। तीनों यात्री जिस फ्लाइट में सफर कर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंचे थे, उसमें कुछ यात्री ओमिक्रॉन पॉजिटिव निकले हैं। दो यात्री यूएस तथा एक यूके से वापस लौटा था। प्रदेश के 21 सौ लोग अब तक वापस लौटे हैं। ओमिक्रॉन की दहशत अब धीरे-धीरे कम होती जा रही है। प्रदेश में इस दहशत के बाद 27 दिसंबर से अब तक करीब 2100 लोगों की विभिन्न देशों से वापसी हुई है। इनमें सबसे ज्यादा यात्री रायपुर जिले से संबंधित हैं और उनकी संख्या छह सौ के करीब हो चुकी है। जानकारी के अनुसार विगत 14,15,16 दिसंबर को रायपुर के कचना, डीडी नगर तथा सिविल लाइन में रहने वाले तीन लोगों की वापसी हुई थी। नियम के मुताबिक उन्हें क्वारेंटाइन रखा गया है। इसी बीच सूचना मिली कि तीनों यात्री जिस फ्लाइट से वापस भारत आए थे, उसमें सफर करने वाले कुछ यात्री ओमिक्रॉन पॉजिटिव मिले है। स्वास्थ्य विभाग को पॉजिटिव यात्रियों के सीट नंबर के साथ जानकारी मिली, जिसके बाद तीनों यात्रियों की निगरानी बढ़ा दी गई है। सात दिन क्वारेंटाइन पूरा होने के बाद उनका आरटीपीसीआर टेस्ट किया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक भारत आने के दौरान वे आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट के साथ आए थे और अभी उनमें किसी तरह के लक्षण नजर नहीं आ रहे हैं। फिर भी ओमिक्रॉन पॉजीटिव के साथ सफर करने के बाद स्वास्थ्य विभाग और यात्रियों की चिंता बढ़ गई है।

विदेश से लौटकर शादी में शामिल

सूत्रों के मुताबिक पिछले दिनों रायगढ़ जिले में कनाडा से लौटा व्यक्ति पॉजिटिव पाया गया था। वह अपनी साली की शादी में शामिल होने आया था और गाइडलाइन का पालन किए बगैर समारोह में शामिल हो गया। बारात में शामिल 28 लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया है।

150 का लोकेशन नहीं

स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता डॉ. सुभाष मिश्रा ने बताया कि प्रदेश के 150 यात्रियों का लोकेशन ट्रेस करने की कोशिश की जा रही है। इनमें ज्यादातर यात्री रायपुर, बिलासपुर और दुर्ग जिले से संबंधित हैं। माना जा रहा है कि यात्री अपने घर आने के बजाए किसी दूसरे जिले या राज्य में ठहर गए होंगे। वापस लौटे 6 सौ से ज्यादा यात्रियों की निगरानी पूरी की जा चुकी है। अभी तक ऐसे सात लोग पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें पांच की जीनोम सिक्वैसिंग रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

निगेटिव रिपोर्ट के साथ आए थे

ओमिक्रॉन पॉजिटिव यात्री के साथ फ्लाइट में सफर करने वालों के पास आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट थी। उनसे निर्धारित गाइडलाइन का पालन करवाया जा रहा जिसके बाद पुन: टेस्ट होगा।

- डॉ. मीरा बघेल, सीएमएचओ

Next Story