Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जिले की प्रवेश सीमा में की जाएगी कोविड जांच, डीएम ने ली अंतर्राज्यीय बस संचालकों की संयुक्त बैठक

कोविड जांच के लिए कबीरधाम तथा राज्य की अंतिम सीमा क्षेत्र कुकदूर, चिल्फी और सिल्हाटी को चिन्हाकित किया गया है। इस चिन्हाकित स्थलों पर स्वास्थ्य विभाग की कोविड जांच टीम मौजूद रहेगी। उनके सहयोग के लिए पुलिस टीम भी रहेगी। अंतर्राज्यीय बस से छत्तीसगढ़ की सीमा तथा कबीरधाम जिले में प्रवेश करने वाले सभी पर्यटकों और अन्य यात्रियों पर विशेष नजर रखी जाएगी। पढ़िए पूरी ख़बर..

जिले की प्रवेश सीमा में की जाएगी कोविड जांच, डीएम ने ली अंतर्राज्यीय बस संचालकों की संयुक्त बैठक
X

अंतर्राज्यीय बस से छत्तीसगढ़ की सीमा में प्रवेश करने वाले सभी पर्यटकों की सिल्हाटी, कुकदूर और चिल्फी में होगी कोविड जांच

कवर्धा: कबीरधाम जिले में कोविड के तीन नए मरीज मिलने तथा उनके ट्रेवल्स हिस्ट्री की जानकारी के बाद कबीरधाम जिला प्रशासन हाईअलर्ट है। अब कोविड 19 कोरोना वायरस तथा कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रान के संक्रमण व उनके रोकथाम के लिए कबीरधाम जिले के सभी मुख्य प्रवेश सीमाओं में कोविड जांच की जाएगी।

कोविड जांच के लिए कबीरधाम तथा राज्य की अंतिम सीमा क्षेत्र कुकदूर, चिल्फी और सिल्हाटी को चिन्हाकित किया गया है। इस चिन्हाकित स्थलों पर स्वास्थ्य विभाग की कोविड जांच टीम मौजूद रहेगी। उनके सहयोग के लिए पुलिस टीम भी रहेगी। अंतर्राज्यीय बस से छत्तीसगढ़ की सीमा तथा कबीरधाम जिले में प्रवेश करने वाले सभी पर्यटकों और अन्य यात्रियों पर विशेष नजर रखी जाएगी।

कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने आज पुलिस अधीक्षक डॉ लाल उमेद सिंह के साथ यहां जिला कार्यालय के सभा कक्ष में पुलिस विभाग, स्वास्थ्य विभाग और अंतर्राज्यीय बस संचालकों की संयुक्त बैठक ली। कलेक्टर श्री शर्मा ने अंतर्राज्यीय बस संचालकों से राज्य तथा जिले में आने वाले घरेलू पर्यटकों व अन्य यात्रियों के सन्दर्भ में विस्तार से जानकारी प्राप्त की। यहाँ बताया गया कि चिल्फी मार्ग से देश के अनेक राज्यों से आने वाले यात्रियों तथा पर्यटकों की संख्या अधिक है। कलेक्टर श्री शर्मा ने देश के अन्य राज्यों तथा अन्य जिलों में कोविड 19 के कोरोना वायरस बढ़ते संक्रमण को बहुत गंभीरता से लिया। कलेक्टर श्री शर्मा ने पुलिस विभाग, स्वास्थ्य विभाग और अंतर्राज्यीय बस संचालकों को निर्देश देते हुए कहा की अंतर्राज्यीय बस से आने वाले सभी व्यक्तियों की कॉउंसलिंग की जाएगी तथा कोविड के लक्षण वाले व्यक्तियों की कोरोना जांच अनिवार्य रहेगा।

कलेक्टर ने इसके लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि स्वास्थ्य अमला जिले के प्रमुख प्रवेश सीमा मार्ग चिल्फी, सिल्हाटी और कुकदूर में उपस्थित रहेंगे। इन मार्गो से आने वाले सभी अंतर्राज्यीय बसों के यात्रियों की स्वास्थ्य परीक्षण करेंगे। स्वास्थ्य विभाग के सहयोग के लिए स्थानीय पुलिस की टीम भी उपस्थित रहेगी साथ ही संबधित पँचायत के अमले भी वहां रहेंगे। बैठक में प्रशासनिक अधिकारी तथा अंतर्राज्यीय बस संचालक प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने कहा कि हम सबने पिछले दो सालों से वैश्विक महामारी कोडिव-19 कोरोना वायरस के बदलते स्वरूप व उनके बदलते लक्षणों को देखा-सुना,पढा और महसूस भी किया है। कोविड के बदलते वेरिएंट ओमीक्रान उनका अंतिम रूप नही हो सकता है। इस संदर्भ में देश के विशेषज्ञों चिंता भी जाहिर कर रहे है। ऐसे में लोगों को सर्तकता बरतनी चाहिए।

Next Story