Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राहुल गांधी से धक्का-मुक्की मामले में कांग्रेस विधायक दल में निंदा प्रस्ताव पारित, सीएम भूपेश ने बताया तानाशाही हुकूमत

इसकी जानकारी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट के माध्यम से दी है। पढ़िए पूरी खबर-

राहुल गांधी से धक्का-मुक्की मामले में कांग्रेस विधायक दल में निंदा प्रस्ताव पारित, सीएम भूपेश ने बताया तानाशाही हुकूमत
X

रायपुर। हाथरस गैंगरेप मामले को लेकर सियासत लगातार गरमाती जा रही है। गुरुवार को दिल्ली से हाथरस के लिए रवाना हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को यूपी पुलिस ने हिरासत में ले लिया। यूपी में राहुल गाँधी से धक्का-मुक्की भी की गई है। इस दौरान धक्का-मुक्की में राहुल गांधी भी ज़मीन पर गिर पड़े। इस मामले को लेकर कांग्रेस विधायक दल की बैठक में निंदा प्रस्ताव पारित किया गया है। इसकी जानकारी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट के माध्यम से दी है।

सीएम भूपेश बघेल ने ट्वीट कर लिखा- 'हाथरस में पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे राहुल गांधी जी और प्रियंका गांधी जी को पुलिस ने जिस तरह से रोका, जिस तरह दुर्व्यवहार किया उसके ख़िलाफ़ छत्तीसगढ़ विधायक दल ने एक निंदा प्रस्ताव पारित किया‌ है। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार का ‌यह‌ अलोकतांत्रिक रवैया निंदनीय व अस्वीकार्य है।'

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने ट्वीट कर लिखा ''हिटलर की तानाशाही विचारधारा की जर्जर नींव पर टिकी आरएसएस और उसकी संस्था भाजपा यदि भारत में अंग्रेजों की हुकूमत की समाप्ति का अध्ययन करके भी कांग्रेस की वैचारिक ताकत नहीं पहचान पाए, तो सच में तरस के लायक हैं आप। इन गीदड़भकियों को शाखाओं के भीतर ही रखो, सड़क पर तो जनता है''

गौरतलब है कि इससे पहले जब पीड़िता की मौत हुई थी, तो प्रियंका गांधी वाड्रा की ओर से यूपी सरकार पर निशाना साधा गया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि हाथरस जैसी वीभत्स घटना बलरामपुर में घटी, लड़की का बलात्कार कर पैर और कमर तोड़ दी गई। आजमगढ़, बागपत, बुलंदशहर में बच्चियों से दरिंदगी हुई. यूपी में फैले जंगलराज की हद नहीं. मार्केटिंग, भाषणों से कानून व्यवस्था नहीं चलती, ये मुख्यमंत्री की जवाबदेही का वक्त है जनता को जवाब चाहिए.

Next Story