Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

छत्तीसगढ़: बेटी का शव कंधे पर उठाए 10 किमी पैदल चला पिता, स्वास्थ्य मंत्री ने दिए जांच के आदेश

अमदला गांव के रहने वाले ईश्वर दास अपनी बेटी सुरेखा को सुबह लखनपुर सीएचसी लाए तो वहां बच्ची की मौत हो गई। लेकिन गाड़ी का इंतजार करने के बाद पिता खुद ही मृत बेटी का शव कंधे पर उठाकर ले आया।

छत्तीसगढ़: बेटी का शव कंधे पर उठाए 10 किमी पैदल चला पिता,  स्वास्थ्य मंत्री ने दिए जांच के आदेश
X

छत्तीसगढ़ (Chhatisgarh) से एक दिल दहलाने वाला वीडियो सामने आया है। जो सरकार और स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की नाकामियों को उजागर कर रहा है। इस वीडियो को देखकर ये अंदाजा लगाया जा सकता है कि आखिर एक आम इंसान को कैसे जिंदगी की परेशानियों के साथ सरकारी महकमें की गैरजिम्मेदारियों के कारण मूलभूत सुविधाओं से दो चार होना होता है। चुनावों में बड़े-बड़े वादों के दम पर पार्टियां सरकार तो बना लेती हैं लेकिन चुनाव के दौरान किए गए अपने वादों को खुद ही घोल कर पी जाती है।

चुनाव के वक्त जिन मनलुभावने वादों से खुश होकर जनता सरकार को चुनती है आखिर में वहीं सरकार, जनता को खोखले वादों से रुबरू कराती है। दरअसल छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में एक पिता अपनी बेटी का शव कंधे पर उठाकर 10 किलोमीटर की पैदल यात्रा करता है तो स्वास्थ्य महकमें का हर अधिकारी मूक दर्शक बनकर बस तमाशा देखता रहता है। जब इस लाचार और बेबस पिता का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होता है तो राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव (Health Min TS Singh Deo) जांच के आदेश देते हैं।

बता दें कि अमदला गांव के रहने वाले ईश्वर दास अपनी बेटी सुरेखा को सुबह लखनपुर सीएचसी लाए तो वहां बच्ची की मौत हो गई। लेकिन गाड़ी का इंतजार करने के बाद पिता खुद ही मृत बेटी का शव कंधे पर उठाकर ले आया।

इसके साथ ही वीडियो के वायरल होते ही शुक्रवार को जिला मुख्यालय अंबिकापुर में मौजूद स्वास्थ्य मंत्री सिंह देव ने जिले के प्रमुख चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को मामले की जांच के आदेश दिए हैं। इस दौरान मंत्री सिंह देव ने कहा कि मैंने वीडियो देखा, ये वाकई परेशान करने वाला था। इस पूरे मामले की जांच के आदेश मैंने सीएमएचओ को दे दी है। इस पर उचित कार्रवाई होगी।

और पढ़ें
Next Story