Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

छत्तीसगढ़ : बैलेट पेपर से छेड़छाड़ के मामले में तत्कालीन सचिव गिरफ्तार

स्टेट बार काउंसिल चुनाव में मतपत्र से छेड़छाड़ के 5 साल पुराने मामले में हुई कार्रवाई। पढ़िए पूरी खबर-

छत्तीसगढ़ : बैलेट पेपर से छेड़छाड़ के मामले में तत्कालीन सचिव गिरफ्तार
X

बिलासपुर। पुलिस ने स्टेट बार काउंसिल चुनाव में मतपत्र से छेड़छाड़ के 5 साल पुराने मामले में काउंसिल की तत्कालीन सचिव मल्लिका बल को गिरफ्तार किया है। सिविल लाइन थाना में बार काउंसिल की तत्कालीन सचिव मल्लिका बल के खिलाफ शिकायत की गई थी। इस मामले में सिविल लाइन पुलिस ने चार दिन पहले काउंसिल के कर्मचारियों का बयान दर्ज किया था। आज इस मामले में काउंसिल के तत्कालीन सचिव मल्लिका बल को गिरफ्तार किया गया है।

गौरतलब है कि साल 2014-2015 में छत्तीसगढ़ स्टेट बार काउंसिल चुनाव के लिये मतदान कराया गया था मतपत्रों को स्टेट बार कार्यालय में रखा गया था। बार के चुनाव में मतदाताओं को प्रत्याशी का चुनाव, वरियता क्रम में वोट दे कर किया जाता है। मतगणना के प्रथम चरण में प्रथम वरियता वोटों की गिनती की गई। इसके बाद सेकेंड वरीयता के गणना में गड़बड़ी उजागर हुई। इसमें प्रथम चरण की गिनती में बहुत पीछे रहने वाले वकीलों को सेकेंड वरीयता के वोट अधिक मिले।

इस पर अधिवक्ताओं ने मतपत्र से छेड़छाड़ कर टेम्परिंग किये जाने का आरोप लगाकर मतगणना में रोक लगाने एवं मामले की जांच कराने की मांग को लेकर सिविल लाइन थाना में बार काउंसिल की तत्कालीन सचिव मल्लिका बल के खिलाफ शिकायत की थी। पुलिस द्वारा कार्रवाई नहीं किये जाने पर हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई। कोर्ट ने वरिष्ठ अधिवक्ताओं की कमेटी बना कर मामले की जांच कर रिपोर्ट पेश करने का आदेश दिया। समिति ने जांच के बाद रिपोर्ट पेश कर कहा था कि मतपत्र से छेड़छाड़ कर टेम्परिंग कर वरीयता क्रम को बढ़ाया गया है। जांच रिपोर्ट पर कोर्ट ने पुलिस को दोषी के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया था।

Next Story