Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

CG Assembly Winter Session : हंगामे की भेंट चढ़ा सत्र का दूसरा दिन, सदन की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित

सदन की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी गई है. आज का सत्र हंगामे के भेंट चढ़ गया. विपक्ष के सदस्य महात्मा गांधी की प्रतिमा के नीचे धरने पर बैठ गए थे. कुछ देर बाद धरने से उठकर विधानसभा अध्यक्ष के कक्ष में विधानसभा अध्यक्ष से विपक्ष के सदस्यों ने मुलाकात की. भाजपा विधायकों ने पीएम आवास मामले की सदन की कमेटी से जांच कराने की मांग की.

CG Assembly Winter Session : हंगामे की भेंट चढ़ा सत्र का दूसरा दिन, सदन की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित
X
File photo

रायपुर. सदन की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी गई है. आज का सत्र हंगामे की भेंट चढ़ गया. विपक्ष के सदस्य महात्मा गांधी की प्रतिमा के नीचे धरने पर बैठ गए थे. कुछ देर बाद धरने से उठकर विधानसभा अध्यक्ष के कक्ष में विधानसभा अध्यक्ष से विपक्ष के सदस्यों ने मुलाकात की. भाजपा विधायकों ने पीएम आवास मामले की सदन की कमेटी से जांच कराने की मांग की.

इसके पहले पीएम आवास योजना लेकर आज सदन में जोरदार हंगामा हुआ. भाजपा विधायक गर्भगृह पहुंचकर जमकर नारेबाजी करने लगे. हंगामा के बीच सदन की कार्यवाही को कुछ देर के लिए स्थगित करना पड़ा. शीतकालीन सत्र के आज दूसरे दिन सदन में भाजपा विधायकों ने प्रधानमंत्री आवास योजना को लेकर खूब हंगामा मचाया.

पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव के जवाब से भाजपा विधायक संतुष्ट नहीं हुए. 51 हजार करोड़ सरकार के कर्ज लेकर भी सदन में हंगामा हुआ. भाजपा के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि राज्य में 18 लाख 81 हजार पीएम आवास के मकान लंबित हैं. राज्य सरकार गरीबों का हक मार रही है.

बृजमोहन ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि भूपेश सरकार गरीबों के छत छीन रही है. गरीबों को पीएम आवास उपबंध नहीं होने के मामले पर बृजमोहन ने सदन की कमेटी बनाकर जांच करने की मांग की. सदस्य केशव चंद्रा ने छत्तीसगढ़ी में सवाल करते हुए कहा गरीब मन ला पीएम आवास के पैसा कब तक उपलब्ध होही.

पीएम आवास के मुद्दे पर सदन में गहमागहमी के बीच भाजपा सदस्य नारेबाजी करते हुए गर्भगृह पहुंच गए. डॉ रमन सिंह, धरमलाल कौशिक, बृजमोहन अग्रवाल समेत सभी भाजपा के सदस्य गर्भगृह में जमकर नारेबाजी करने लगे. इस दौरान सदन की कार्रवाई 12 बजे तक के लिए स्थगित भी की गई.

सदन में विधायक अजय चंद्राकर ने सरकार पर तंज़ कसते हुए कहा कि क्या केंद्र के पैसा नहीं देने पर, राज्य सरकार सभी योजनाओं को वापस कर देगी? देशभर में किसी राज्य ने केंद्र से राशि नहीं मिलने पर योजनाओं को वापस नहीं किया है. मंत्री अमरजीत भगत ने पलटवार करते हुए कहा कि इतनी बातें अगर भाजपा केंद्र के सामने रखती तो हमें हमारी हक़ की राशि मिल जाती.

सदस्य अजय चंद्राकर ने प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 21-22 में केंद्र व राज्य सरकार द्वारा हितग्राहियों को आवास आवंटित करने के लक्ष्य पर भी सवाल उठाया. 19-20 में चारों क़िस्त उपलब्ध नहीं थी क्या कारण है? अजय चंद्राकर ने पूछा कि केन्द्रांश पहले मिलता है या राज्यांश? जवाब देते हुए पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि योजना 2016 से प्रारम्भ हुई है.

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि जवाब नहीं आया है. विधानसभा अध्यक्ष ने भी कहा कि वे भी इस प्रश्न का उत्तर जानना चाहते हैं. बृजमोहन ने पीएम आवास योजना में कितना लक्ष्य मिला था, लक्ष्य कितना पूरा हुआ?

Next Story