Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मंत्रालय-संचालनालय के कर्मचारियों के लिए शुक्रवार से बस सेवा शुरू

छत्तीसगढ़ के कई जिलों में कोरोना संक्रमण की दर में कमी आने के साथ ही राजधानी रायपुर में भी इसमें कमी आई है। संक्रमण दर में कमी के बाद मंत्रालय-संचालनालय के कर्मचारियों के लिए शुक्रवार से बस सेवा शुरू करने का आदेश मंत्रालय के रजिस्ट्रार ने जारी कर दिया।

मंत्रालय-संचालनालय के कर्मचारियों के लिए शुक्रवार से बस सेवा शुरू
X
बस (प्रतीकात्मक फोटो)

छत्तीसगढ़ के कई जिलों में कोरोना संक्रमण की दर में कमी आने के साथ ही राजधानी रायपुर में भी इसमें कमी आई है। संक्रमण दर में कमी के बाद मंत्रालय-संचालनालय के कर्मचारियों के लिए शुक्रवार से बस सेवा शुरू करने का आदेश मंत्रालय के रजिस्ट्रार ने जारी कर दिया। अब मंत्रालय और विभागाध्यक्ष कार्यालय जाने-आने के लिए बस की सुविधा मिलेगी।

सामान्य प्रशासन विभाग ने इससे पहले 6 मई से मंत्रालय और संचालनालय कार्यालयों में एक तिहाई कर्मचारियों के साथ कामकाज शुरू किया था। इस दौरान एक तिहाई कर्मचारियों की उपस्थिति के साथ कार्यालय संचालन किया जा रहा था। कोरोना संक्रमण की दरों में कमी आने के बाद 27 मई से मंत्रालय और विभागाध्यक्ष कार्यालयों के संचालन के लिए अधिकारियों की शत प्रतिशत और तृतीय-चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों को पचास प्रतिशत तक उपस्थिति बढ़ाने का आदेश जारी किया गया। कर्मचारियों की संख्या बढ़ने के साथ ही उनके द्वारा बस सुविधा बहाल करने की मांग की जा रही थी। अब तक कर्मचारियों वे स्वयं या विभागीय वाहन से आ रहे थे।

कर्मचारियों की मांग पर मिली सुविधा

छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी संयुक्त मोर्चा के संयोजक कमल वर्मा ने शत प्रतिशत बस संचालन करने की मांग को लेकर मुख्य सचिव और सामान्य प्रशासन के अधिकारकयों से चर्चा की। महिला और विकलांग कर्मचारियों को स्वयं के वाहन से आने-जाने में होने वाली परेशानी को लेकर बस सुविधा बहाल करने की मांग रखी। कर्मचारियों ने बस संचालन नहीं करने पर कार्यालय आने में असमर्थता जताई। तब रजिस्ट्रार, मंत्रालय ने कल से शत प्रतिशत बस संचालन करने का आदेश जारी किया है।

मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य

मंत्रालय में कर्मचारियों के लिए पूरे समय कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जारी दिशा निर्देशों का पालन अनिवार्य होगा। उन्हें मास्क लगाए रखना होगा। हाथ सेनिटाइज करना और शारीरिक दूरी का पालन करना भी अनिवार्य होगा।


Next Story