Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

VIDEO: कालीचरण महाराज के समर्थन में उतरे बृजमोहन, पुलिसिया कार्रवाई के तरीके पर उठाये सवाल

पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कालीचरण की गिरफ्तारी को लेकर किया ट्वीट। कालीचरण को छोडने की रखी मांग। ट्वीट करते हुए पुलिस की कार्रवाही पर किया सवाल। इधर रायपुर पुलिस ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का अपमान करने वाले कालीचरण महाराज के खिलाफ राजद्रोह का मामला भी दर्ज किया साथ ही कालीचरण पर अन्य धाराएं भी बढ़ाई। साथ ही मामले में सीएम भूपेश बघेल ने भी महत्त्वपूर्ण बयान दिया है। पढ़िए पूरी ख़बर..

VIDEO: कालीचरण महाराज के समर्थन में उतरे बृजमोहन, पुलिसिया कार्रवाई के तरीके पर उठाये सवाल
X

कालीचरण महाराज के खिलाफ टिकरापारा थाना में धारा 153a (1)आ।153b(1) (a) 295a। 505(1)(b)।124 a "राजद्रोह" की धारा जोड़ी गई। कालीचरण महाराज को रायपुर पुलिस ने आज खजुराहो से किया है गिरफ्तार...

रायपुर: राजधानी में चल रहे बयानबाजी में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू का बयान आया। उन्होंने कालीचरण की गिरफ्तारी पर एमपी के गृहमंत्री द्वारा सवाल खड़े करने को लेकर कहा गिरफ्तारी का तरीका गलत नहीं है। अलग-अलग परिस्थितियों के हिसाब से पुलिस कार्रवाही करती है। जहां जानकरी देना जरूरी है। वहां जानकारी दी जाती है। जहां जरूरी नहीं वहां जानकारी नहीं भी दी जाती है। राष्ट्रपिता से जुड़ा मामला था इसलिए जितना गोपनीयता बरती जानी चाहिए बरती गई। एमपी के गृहमंत्री कालीचरण के वक्तव्य को गलत मानते है तो उन्हें इस मामले में कुछ बोलना ही नहीं चाहिए। कालीचरण के खिलाफ धाराएं बढ़ाये जाने पर कहा। राष्ट्रपिता के खिलाफ अनर्गल बयानबाजी से स्वमेव राष्ट्रद्रोह का मामला बनता है। इस मामले में नियम और कानून के तहत कार्रवाही की जाएगी। पूर्व मंत्री बृजमोहन के कालीचरण रिलीज हैशटैग पर कहा। राष्ट्रपिता के खिलाफ कोई गलत बयान दें तो इस पर कार्रवाई करना गलत नहीं है।

कालीचरण की गिरफ्तारी को लेकर मध्य प्रदेश सरकार द्वारा उठाए जा रहे सवाल पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि नरोत्तम मिश्रा ने आपत्ति दर्ज किया तो वह बताएं पूरी दुनिया में मानवता का संदेश देने वाले को गाली देने वाले को गिरफ्तार किया गया है, क्या वह इससे खुश हैं या नाराज हैं.

गिरफ्तारी में पूरी तरीके से प्रक्रिया का पालन किया गया. उनके परिवारजन को गिरफ्तारी के बारे में सूचना दी गई है, और 24 घंटे के अंदर न्यायालय में प्रस्तुत किया जाएगा. (देखिए वीडियो..)

भूपेश बघेल, मुख्यमंत्री, छत्तीसगढ़



Next Story