Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बारदाने को लेकर रमन सिंह राज्य सरकार पर हमलावर- कहा अजीब सरकार है, किसी भी बात के लिए प्रधानमंत्री को जवाबदार बता देती है

पूर्व मुख्यमंत्री ने बारदाने को लेकर राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए कहा 15 साल CM रहते कभी बारदाने की समस्या नहीं हुई। भूपेश तो किसानों से ही बारदाने मंगा रहे हैं। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बारदाने की दुकान खोले हैं क्या?

बारदाने को लेकर रमन सिंह राज्य सरकार पर हमलावर- कहा अजीब सरकार है, किसी भी बात के लिए प्रधानमंत्री को जवाबदार बता देती है
X

बिलासपुर: डॉ. रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ भवन में पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि बारदाने की समस्या से निपटना सरकार का काम है। धान खरीदी के लिए छह महीने पहले तैयारी करनी पड़ती है। बारदानों का निर्माण पश्चिम बंगाल में होता है। इसके लिए जूट कमिश्नर को एडवांस राशि के साथ ऑर्डर देना पड़ता है। यहां सरकार जूट कमिश्नर को पैसा ही नहीं दे रही है, तो बारदाना कहां से आए। उल्टा सरकार इसके लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहरा रही है। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि पंजाब व हरियाणा जैसे राज्यों में बारदानों की समस्या क्यों नहीं हो रही है।

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कांग्रेस के जनजागरण अभियान को लेकर भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि महंगाई कोई मुद्दा नहीं है। कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं है। इसलिए गली-गली घूम रही है। उन्होंने CM भूपेश बघेल पर कटाक्ष करते हुए कहा कि बाहर घूम-घूमकर इनाम लेने से कुछ नहीं होता।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि PM आवास से छत्तीसगढ़ को राज्य सरकार ने अलग कर दिया है, जो छत्तीसगढ़ के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। इस मामले में केंद्रीय सचिव का पत्र आना गंभीर बात है। यह निर्णय लेकर भूपेश बघेल ने गरीबों को मकान से वंचित करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि इससे राज्य को 11 हजार करोड़ का नुकसान हुआ है, जो राज्य के गरीबों का नुकसान है।


Next Story