Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

'दलबदल के लिए बीजेपी कर रही विधायकों से संपर्क', टीएस सिंहदेव का दावा

राजस्थान से लौटने पर स्वाथ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने की चर्चा। पढ़िए पूरी खबर-

दलबदल के लिए बीजेपी कर रही विधायकों से संपर्क, टीएस सिंहदेव का दावा
X

रायपुर। छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव राजस्थान से लौट गये हैं। सिंहदेव ने राजस्थान में राज्यसभा चुनाव को लेकर तीनों सीटें जीतने का दावा किया है। रायपुर लौटने के बाद टीएस सिंहदेव ने कहा कि- 'राजस्थान में स्थिति कांग्रेस के पक्ष में है। 200 एमएलए हैं जिसमें 125 कांग्रेस के पक्ष में है। भाजपा के पास 75 विधायकों का समर्थन है। तीन सांसद चुने जाने हैं।'

उन्होंने कहा कि- '50-50 मत जिनको मिलेंगे वह चुने जाएंगे... इस तरह से कांग्रेस के पक्ष में वहां पर स्थिति बनी हुई है। भाजपा कुछ विधायकों से दलबदल करने के लिए संपर्क कर रही है। कांग्रेस के विधायक एकजुट हैं। ना कोई पार्टी छोड़ने वाला है, ना कोई बाहर जाएगा। कांग्रेस के सांसद चुने जाने में कोई डाउट नहीं है।'

इसके अलावा उन्होंने छत्तीसगढ़ में ऑपरेशन लोटस को लेकर कहा- 'यहां तो यह सपना है उनका और सपना ही रह जाएगा। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार 5 साल तक चलेगी। सरकार बेहतर ढंग से काम करेगी और अगले 5 साल बाद भी छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार रहेगी। सालों तक विपक्ष में रहकर भाजपा के मन में डर की भावना घर कर गई है। सत्ता में आने के लिए वो लोग एन केन प्रकारेण काम करते हैं। उनको सिर्फ सत्ता चाहिए... किसी भी तरह सत्ता में आना उनकी मानसिकता बन गई है।'

मध्यप्रदेश के उपचुनावों के मामले में उन्होंने कहा कि- 'मध्यप्रदेश की बात अलग है। मध्यप्रदेश में भाजपा और कांग्रेस के बीच बेहद कम अंतर है। इसलिए पहले से ही लग रहा था कि यहां स्थिति गंभीर है। गोवा और कर्नाटक जैसी स्थिति छत्तीसगढ़ में नहीं है। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार गिर सके यह संभव नहीं है। सरोज जी ने कुछ कहा होगा पर ऐसा लगता नहीं कि यहां पर सरकार को कोई संकट है।

वहीं कोरोना के बढ़ते मामलों पर टीएस सिंहदेव ने चिंता जताई है। उन्होंने कहा- 'यह चिंता की बात है कि मामले बढ़ रहे हैं लेकिन हमें यह भी समझना होगा कि करोना अभी रहेगा। हमें इस को फैलने से कैसे रोकना है यह सुनिश्चित करना होगा। लॉकडाउन की बात आ रही है लेकिन लॉकडाउन ठोस उपाय नहीं है। आर्थिक गतिविधियां संचालित हो कि रोकी जाए इसको लेकर संशय की स्थिति है। इस संबंध में आज मुख्यमंत्री ने बैठक बुलाई है। इस विषय पर चर्चा होगी। लॉकडाउन एक सहारा हो सकता है लेकिन कोई सलूशन नहीं है। लोग चाह रहे हैं कि कंप्लीट लॉकडाउन किया जाए लेकिन मुख्यमंत्री जी के साथ मीटिंग के बाद ही इस संबंध में स्थिति स्पष्ट होगी।'

Next Story