Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मरीजों को बड़ी राहत, प्रदेश के एकमात्र हृदय की बीमारी के सरकारी अस्पताल में हार्ट सर्जरी शुरू

वेटिंग में 160 मरीज। जल्द खत्म होगा इंतजार। महीनों से अटकी एंजियोप्लास्टी और वाल्व रिप्लेसमेंट की प्रक्रिया फिर शुरु। जरुरतमंद मरीजों को एडवांस कार्डियक इंस्टीट्यूट में हृदय और नसों से संबंधित बीमारी के उपचार का लाभ मिलने लगा। पढ़िए पूरी ख़बर..

मरीजों को बड़ी राहत, प्रदेश के एकमात्र हृदय की बीमारी के सरकारी अस्पताल में हार्ट सर्जरी शुरू
X

रायपुर: प्रदेश के एकमात्र हृदय की बीमारी के सरकारी अस्पताल में लंबे समय से सर्जरी की बाट जोह रहे मरीजों को बड़ी राहत मिली है। सर्जरी के लिए आवश्यक सामग्रियों के अभाव में कई महीनों से अटकी एंजियोप्लास्टी और वाल्व रिप्लेसमेंट की प्रक्रिया फिर शुरु हो गई है। समस्याओं का समाधान होने के बाद 23 साल की महिला की एंजियोप्लास्टी कर राहत प्रदान की गई। एसीआई में सर्जरी के लिए वेटिंग 160 तक पहुंच गया था।

सूत्रों के मुताबिक प्राथमिकता के आधार पर मरीजों को बुलाकर उनकी सर्जरी की शुरुआत की जा रही है। जल्दी ही सभी मरीजों का उपचार किया जाएगा। शनिवार को आंबेडकर अस्पताल की टेक्नीकल कमेटी ने एसीआई में सर्जरी के लिए आवश्यक सामानों की उपलब्धता के लिए टेंडर का रेट फाइनल किया। इसके बाद संबंधित कंपनी द्वारा उपकरण तथा अन्य सामान उपलब्ध कराते ही सर्जरी की प्रक्रिया शुरु हुई और जरुरतमंद मरीजों की समस्या का समाधान होने लगा। जरुरी सामान नहीं मिलने की वजह मरीजों की एंजियोप्लास्टी नहीं हो पा रही थी। खासकर आर्थिक स्थिति से कमजोर मरीजों के पास इंतजार के अलावा कोई चारा नहीं था। माली हालत से संपन्न मरीज निजी अस्पतालों में जाकर अपना इलाज करवा रहे थे। अस्पताल के चिकित्सकों की काफी कोशिश और अस्पताल के नए अधीक्षक के आने के बाद इस समस्या का सामाधान हुआ।

जरुरतमंद मरीजों को एडवांस कार्डियक इंस्टीट्यूट में हृदय और नसों से संबंधित बीमारी के उपचार का लाभ मिलने लगा। सर्जरी की शुरुआत होने के बाद मरीजों का भी एसीआई पहुंचना प्रारंभ हो गया है।

प्रक्रिया शुरु

एसीआई में एंजियोप्लास्टी की प्रक्रिया शुरु कर दी गई है। अभी 160 मरीज वेटिंग में हैं, जिन्हें प्राथमिकता के आधार पर जल्द राहत देने का प्रयास किया जा रहा है।

डॉ. स्मित श्रीवास्तव, कार्डियोलॉजी विभागाध्क्ष एसीआई

Next Story