Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बड़ी ख़बर: नवा रायपुर के किसान 3 जनवरी से आंदोलन पे, 27 गांवों में भूमि क्रय-विक्रय पर लगी हुई है रोक

नवा रायपुर क्षेत्र के 27 गांवों में स्वतंत्र भूमि के क्रय-विक्रय पर रोक लगी हुई है। प्रभावितों को शादी-ब्याह, इलाज, मकान निर्माण के लिए जमीन रहते हुए भी बैंकों द्वारा राशि नहीं मिलती। इसे लेकर 3 जनवरी से स्थानीय किसानों का अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू होगा। किसान नेता राकेश टिकैत और शिव कुमार शर्मा कक्काजी से प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की। दोनों हस्तियों ने आश्वस्त किया, किसानों के आंदोलन में भाग लेने रायपुर आएंगे। पढ़िए पूरी ख़बर...

बड़ी ख़बर: नवा रायपुर के किसान 3 जनवरी से आंदोलन पे, 27 गांवों में भूमि क्रय-विक्रय पर लगी हुई है रोक
X

रायपुर। नई राजधानी के प्रभावित 27 गांवों के किसान पुनर्वास पैकेज की वार्षिक राशि में आडिट आपत्ति के नाम पर राशि रोकने और स्थानीय लोगों को रोजगार दिए जाने की मांग को लेकर नवा रायपुर स्थित पर्यावास भवन के सामने प्रदर्शन करेंगे। 3 जनवरी से दिल्ली की तर्ज पर किसानों का अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू होगा। नई राजधानी प्रभावित किसान कल्याण समिति नवा रायपुर के अध्यक्ष रूपन चंद्राकर, संरक्षक आनंद साहू, सचिव कामता प्रसाद रात्रे, समिति के कोषाध्यक्ष फुलेश बारले ने मंगलवार को संयुक्त पत्रकारवार्ता में यह जानकारी दी।

नवा रायपुर क्षेत्र के 27 गांवों में भूमि क्रय-विक्रय पर लगी हुई है रोक

पत्रकारों से चर्चा करते हुए रूपन चंद्राकर ने बताया, वर्ष 2005 से नवा रायपुर क्षेत्र के 27 गांवों में स्वतंत्र भूमि के क्रय-विक्रय पर रोक लगी हुई है। प्रभावितों को शादी-ब्याह, इलाज, मकान निर्माण के लिए जमीन रहते हुए भी बैंकों व अथाॅरिटी द्वारा राशि नहीं मिलती। इसके कारण साहूकारों से अधिक ब्याज दर पर कर्जा लेना पड़ता है। प्रतिबंध के कारण भूमि को न क्रय कर सकते हैं, न गिरवी रखी जाती है। पैसे के अभाव में किसानों को काफी दिक्कतें हो रही हैं। ऐसे में 2005 से लगे प्रतिबंध काे तत्काल शून्य घोषित किया जाए।

किसान नेता टिकैत, कक्काजी से मुलाकात

नई राजधानी प्रभावित किसान कल्याण समिति के पदाधिकारियों ने बताया, नवा रायपुर में 3 जनवरी से प्रस्तावित अनिश्चितकालीन आंदोलन को लेकर देश के नामचीन किसान नेता राकेश टिकैत और शिव कुमार शर्मा कक्काजी से प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की। इन दोनों हस्तियों ने आश्वस्त किया है, किसानों के आंदोलन में भाग लेने वे रायपुर आएंगे।

Next Story