Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अरण्य बचाने आंदोलन : कोयला खनन और पेड़ों की कटाई रोकने सड़क पर उतरेंगे आदिवासी, रोकेंगे ट्रेन और नेशनल हाइवे करेंगे जाम

सरगुजा जिले में शुक्रवार को सर्व आदिवासी समाज हसदेव अरण्य के पेड़ों की कटाई पर रोक लगाने की मांग को लेकर प्रदर्शन ​करेंगे। इसके समर्थन में कई संगठन के लोग ग्राम साल्हि पहुंचे हैं। आदिवासी समाज परसा कोल खदान के खिलाफ यह प्रदर्शन करेंगे। इसकी अगुवाई आदिवासी समाज के प्रदेश अध्यक्ष सोहन पोटाई करेंगे।

अरण्य बचाने आंदोलन : कोयला खनन और पेड़ों की कटाई रोकने सड़क पर उतरेंगे आदिवासी, रोकेंगे ट्रेन और नेशनल हाइवे करेंगे जाम
X

अम्बिकापुर। छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में शुक्रवार को सर्व आदिवासी समाज हसदेव अरण्य के पेड़ों की कटाई पर रोक लगाने की मांग को लेकर प्रदर्शन ​करेंगे। इसके समर्थन में कई संगठन के लोग ग्राम साल्हि पहुंचे हैं। आदिवासी समाज परसा कोल खदान के खिलाफ यह प्रदर्शन करेंगे। इसकी अगुवाई आदिवासी समाज के प्रदेश अध्यक्ष सोहन पोटाई करेंगे। आंदोलन को लेकर हजारों की संख्या में पुलिस बल तैनात किए गए हैं। प्रदेश अध्यक्ष पोटाई ने बताया कि हसदेव अरण्य क्षेत्र में परसा कोल ब्लाक और परसा ईस्ट केते बासेन कोयला खनन की अनुमति से लगभग 4 गांव उजड़ जाएंगे और लगभग 4.5 लाख पेड़ कट जाएंगे। उन्होंने बताया कि जल जंगल जमीन की संरक्षण के लिए हसदेव अरण्य के पेड़ों की कटाई रोकने आज ​अनिश्चितकालीन मालवाहक वाहन और ट्रेन रोकने चक्काजाम करेंगे। साथ ही एनएच 130 पर भी विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। इसके बावजूद आदि सरकार कोई कार्यवाही नहीं करती तो हम आगे और उग्र प्रदर्शन करेंगे।

बता दें कि सर्व आदिवासी समाज प्रदर्शन को लेकर प्रदेश स्तरीय व विभन्न जिला मुख्यालयों से 5 मई को राज्यापाल और मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंप कर कोल खनन और पेड़ कटाई पर तत्काल रोक नहीं लगाए जाने पर 20 मई को सरगुजा जिले में मालवाहक वाहन और ट्रेन रोकने की जानकारी दी थी। देखिए वीडियो-



और पढ़ें
Next Story