Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रविवि के बाथरूम में मिली उत्तरपुस्तिकाएं, ये बीते सत्र की लेकिन नकल करने इस वर्ष इस्तेमाल

पं. रविशंकर शुक्ल विवि में मंगलवार को नकल का अपनी तरह का एक अनोखा मामला सामने आया। वर्तमान में बीएएलएलबी की सेमेस्टर परीक्षाएं चल रही हैं। द्वितीय सेमेस्टर की एटीकेटी परीक्षाएं फिलहाल विवि ले रहा है। इसके लिए परीक्षा केंद्र रविवि अध्ययनशाला में ही बनाए गए हैं। मंगलवार को शारीरिक शिक्षा विभाग में परीक्षाएं चल रही थीं। इस विभाग के बाथरूम में अधिकारियों को नकल सामग्री मिली।

रविवि के बाथरूम में मिली उत्तरपुस्तिकाएं, ये बीते सत्र की लेकिन नकल करने इस वर्ष इस्तेमाल
X

रायपुर. पं. रविशंकर शुक्ल विवि में मंगलवार को नकल का अपनी तरह का एक अनोखा मामला सामने आया। वर्तमान में बीएएलएलबी की सेमेस्टर परीक्षाएं चल रही हैं। द्वितीय सेमेस्टर की एटीकेटी परीक्षाएं फिलहाल विवि ले रहा है। इसके लिए परीक्षा केंद्र रविवि अध्ययनशाला में ही बनाए गए हैं। मंगलवार को शारीरिक शिक्षा विभाग में परीक्षाएं चल रही थीं। इस विभाग के बाथरूम में अधिकारियों को नकल सामग्री मिली।

यह पहली बार नहीं है, जब अधिकारियों को बाथरूम में नकल सामग्री मिली हो। लेकिन इस बार नकल सामग्री के रूप में पूरक उत्तरपुस्तिका मिली है। छात्रों को परीक्षाओं के दौरान मुख्य उत्तरपुस्तिका के साथ ही आवश्यकता पड़ने पर पूरक उत्तरपुस्तिका भी दी जाती है। इसका उल्लेख भी बकायदा किया जाता है। परीक्षा के दौरन मिलने वाली ये पूरक कॉपियां ही बाथरूम में मिली हैं। इनमें विभिन्न प्रश्नों के उत्तर लिखे हुए थे। छात्रों के इन अजीबो-गरीब हथकंडों से रविवि के अधिकारी-शिक्षक भी हैरान हैं।

उठ रहे सवाल

जिन पूरक उत्तरपुस्तिकाओं में उत्तर लिखे हुए थे, वे बीते सत्र की हैं और रविवि की है। इनमें केंद्राध्यक्ष के मुहर और हस्ताक्षर भी हैं। चुंकि छात्रों को दी जाने वाली प्रत्येेक उत्तरपुस्तिका का रविवि को रिकॉर्ड रखना होता है, ऐसे में वो उत्तरपुस्तिका कैसे वहां आ गई, इस पर सवाल उठ रहे हैं। उत्तरपुस्तिकाएं छात्रों को परीक्षा के पश्चात अनिवार्यत: जमा करनी होती है। छात्र किस तरह से इसे घर लेकर चले गए, इस पर सवाल उठ रहे हैं। हालांकि नकल प्रकरण में शामिल छात्र के विषय में अब तक पड़ताल नहीं की जा सकी है। यह भी स्पष्ट नहीं हो सका है कि मुख्य उत्तरपुस्तिका के साथ जमा करने की तैयारी थी अथवा इसे नकल पर्ची के रूप में इस्तेमाल करने की तैयारी छात्रों की थी।

कार्रवाई होगी

छानबीन के बाद ही चीजें स्पष्ट हो सकेंगी। नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

- सुपर्ण सेन गुप्ता, मीडिया प्रभारी, रविवि

Next Story