Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

छत्तीसगढ़ में 1000 काेराेना केस, दुर्ग-रायपुर टॉप पर, दस ने तोड़ा दम

संक्रमण के मामले में दुर्ग आगे, रायपुर में मिले 321 केस

छत्तीसगढ़ में 1000 काेराेना केस, दुर्ग-रायपुर टॉप पर, दस ने तोड़ा दम
X

रायपुर. रविवार अवकाश होने की वजह से प्रदेश में पिछले चौबीस घंटे की तुलना में 14 हजार लोगों की जांच कम हुई, मगर कोरोना का आंकड़ा तब भी 1000 तक पहुंच ही गया। दस लोगों की मौत हो गई। दुर्ग में 345 और रायपुर जिले में 321 मामले सामने आए।

प्रदेश में रविवार को 21 हजार 554 लोगों की जांच हुई, जबकि शनिवार को 36 हजार से ज्यादा सैंपल की जांच की गई थी। दूसरी ओर पिछले 13 दिनों से बढ़ रहे कोरोना के प्रकोप को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने फिर अपनी तैयारी शुरू कर दी है। रायपुर जिले में 2700 से ज्यादा एक्टिव केस होने की वजह से लालपुर अस्पताल फुल होने की स्थिति में आ गया है और माना के सिविल अस्पताल को पुन: खोलने की तैयारी कर ली गई है। करीब डेढ़ सौ बिस्तर की क्षमता वाले माना अस्पताल में मरीज बढ़ जाएंगे तो आयुर्वेदिक अस्पताल का उपयोग होगा।

होम आइसोलेशन की सुविधा लेने में सक्षम नहीं होने वाले ए सिंपटोमैटिक मरीजों के लिए गुढ़ियारी के प्रयास सेंटर को पुन: खोलने की तैयारी की जा रही है। कोरोना के बढ़ते क्रम को देखते हुए स्वास्थ्य अमले को अलर्ट मोड में रहने को कहा गया है। रायपुर जिले में रविवार को चार लोगों की कोरोना से मौत हो गई और कुल मौतों की संख्या 837 तक पहुंच गई। इसी तरह दुर्ग जिले में 2558 एक्टिव केस हैं और यहां 669 लोग कोरोना के शिकार होकर जान गंवा चुके हैं।

प्रदेश में 8442 एक्टिव

बढ़ते कोरोना मरीज की तुलना में स्वस्थ होने वाले कम होने की वजह से प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 8442 तक पहुंच गई है। रविवार को जहां एक हजार मरीज मिले, वहीं केवल 208 लोग स्वस्थ हुए। लगातार चार दिन से प्रदेश में रोजाना एक हजार से ज्यादा केस सामने आने लगे हैं।

बिलासपुर में भी बढ़े संक्रमित

रायपुर, दुर्ग के साथ कोरोना के मामले बिलासपुर में भी बढ़ने लगे है। रविवार को यहां 93 केस सामने आए, वहीं राजनांदगांव में 28, सरगुजा में 23 प्रकरण सामने आए। लंबे समय तक कोरोना के शून्य केस वाले सुकमा जिले में अब तीन एक्टिव केस हैं। कोरोना की वजह से होने वाली दस मौतों में से सात को-मार्बिडिटी वाले मरीज थे।

और पढ़ें
Next Story