Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गोदामों में ही सड़ गया 200 टन आलू, प्याज की आवक अच्छी, दाम में अभी राहत

अप्रैल में फेंकने पड़े सड़े आलू, मांग कमजोर, थोक में 12 रुपए प्रति किलो

गोदामों में ही सड़ गया 200 टन आलू, प्याज की आवक अच्छी, दाम में अभी राहत
X

रायपुर. भनपुरी होलसेल आलू मंडी में लाॅकडाउन की वजह से गोदामों में रखा हुआ 200 टन आलू सड़ गया। इससे थोेक कारोबारियों को 30 लाख का नुकसान हुआ है। हालत ये रही कि सैकड़ों टन सड़े आलू फेंकने पड़ गए। प्रदेशभर में बाजार बंद होने और परिवहन सेवा ठप होने की वजह से ये हालात बने। मार्केट में अभी भी छिटपुट ग्राहकी हो रही है, इस वजह से आलू की डिमांड कमजोर बनी हुई है। होलसेल में 12 से 13 रुपए प्रति किलो के भाव से आलू बिक रहा है। कोरोना महामारी की वजह से राजधानी में लॉकडाउन के चलते आलू कारोबारियों के गोदामों में 400 टन माल भनपुरी के दर्जनभर से ज्यादा गोदामों में डंप रहा। भनपुरी होलसेल आलू मंडी के अध्यक्ष अजय अग्रवाल का कहना है, लाॅकडाउन के चलते बाहर से ग्राहकी बुरी तरह प्रभावित रही। परिवहन सेवा ठप होने का भी कारोबार पर असर पड़ा। अप्रैल माह में गोदामों में रखे 200 टन आलू सड़कर खराब हो गए। इसे फेंकने के अलावा कोई चारा नहीं था। आलू खराब होने से करीब 30 लाख रुपए का नुकसान कारोबारियों को उठाना पड़ा।

जून में बढ़ सकते हैं प्याज के दाम

मई माह की समाप्ति में 40 किलो वजनी प्याज की बोरी 700- 800 रुपए में बाजार में बिक रही है। 20 रुपए किलो वाले प्याज की महाराष्ट्र से आवक हो रही है। कारोबारियों का कहना है, आंधी-तूफान की वजह से प्याज की फसल पर प्रभाव पड़ा है। इसका असर जून माह में दिखेगा। बहरहाल वर्तमान में मीडियम क्वालिटी का प्याज थोक में 17 से 18 रुपए और अच्छी क्वालिटी का प्याज 20 रुपए प्रति किलो की दर से उपलब्ध है।

रेट में तेजी के चांस नहीं, बंगाल यूपी से आ रहा आलू

राजधानी की थोक आलू मंडी में इस समय बंगाल और यूपी से आलू की भरपूर आवक हो रही है। मार्केट में 12 रुपए प्रति किलो की दर से थोक में आलू बिक रहा है। ग्राहकी कमजोर होने की वजह से आने वाले दिनों में आलू के भाव में तेजी आने की संभावना कम है।

Next Story