Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भाजपा के गढ़ बीरगांव में चुनाव की कमान संभालेंगे कांग्रेस के 102 स्टार प्रचारक, मंत्रियों की भी लगी ड्यूटी

बिरगांव नगर निगम में भाजपा का कब्जा रहा है, कांग्रेस अब इसे छीनने के प्रयास में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। सांसद, मंत्री, विधायक, पार्षद और निगम-मंडल के अध्यक्ष, महापौर और सभापति को भी प्रचार में उपस्थिति देने कहा गया। प्रभारी मंत्री की निगरानी में प्रचार अभियान चलाया जाएगा। पढ़िए पूरी ख़बर...

भाजपा के गढ़ बीरगांव में चुनाव की कमान संभालेंगे कांग्रेस के 102 स्टार प्रचारक, मंत्रियों की भी लगी ड्यूटी
X

रायपुर: नगरीय निकाय चुनाव को लेकर कांग्रेस ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। राजधानी से लगे बीरगांव नगर निगम चुनाव में प्रचार के लिए कांग्रेस ने 102 स्टार प्रचारकों की सूची जारी की है। प्रचारकों में जिले के प्रभारी मंत्री रविंद्र चाैबे, मंत्री ताम्रध्वज साहू, डॉ. शिव डहरिया, सांसद छाया वर्मा सहित 11 विधायकों, पूर्व विधायकों के साथ प्रवक्ताओं और कांग्रेस के वरिष्ठ पदाधिकारियों को शामिल किया गया है।

राजीव भवन से कांग्रेस के प्रभारी महामंत्री रवि घोष द्वारा जारी की गई प्रचार सूची में रायपुर और बिलासपुर के महापौर तथा निगम सभापति को भी शामिल किया है। राजधानी में रहने वाले विभिन्न निगम-मंडल के अध्यक्षों को भी यहां पर वार्डवार प्रचार में अपनी उपस्थिति देने कहा गया है। यहां पर 40 वार्डों में रायपुर नगर निगम के कांग्रेस पार्षदों को लगाया गया है। साथ ही संगठन की ओर से एनएसयूआई, युवा कांग्रेस और किसान कांग्रेस के अध्यक्ष को यहां पर प्रचार में जुटने कहा गया है। शहर के ब्लॉक अध्यक्ष भी यहां पर प्रचार के दौरान अपनी उपस्थिति देंगे। हर वार्ड में जातीय समीकरण को ध्यान में रखकर कांग्रेस प्रचार के लिए सभी लोगों को यहां पर झाेंक रही है।

बताया जाता है कि प्रभारी मंत्री के निगरानी में प्रचार अभियान चलाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि बीरगांव निगम में भाजपा का कब्जा रहा है। कांग्रेस अब इसे छीनने के प्रयास में कोई कसर छोड़ना नहीं चाहती। प्रचारकों की जंबो सूची जारी होने के बाद सभी लोगों को तत्काल प्रचार के काम लगने का निर्देश दिया गया है।

मंत्रियों की भी लगाई गई ड्यूटी

प्रचारकों में मंत्री रविंद्र चौबे, मंत्री ताम्रध्वज साहू डॉ शिव डहरिया सहित 11 विधायकों, पूर्व विधायकों के साथ प्रवक्ता और कांग्रेस के वरिष्ठ पदाधिकारियों को शामिल किया गया है।

प्रतीकात्मक

Next Story