Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

वैशाली एक्सप्रेस में महिला ने बच्चे को दिया जन्म, RPF ने डिलीवरी में ऐसे दिया सराहनीय योगदान

नई दिल्ली से बिहार के सहरसा के लिए जा रही वैशाली एक्सप्रेस ट्रेन से एक बड़ी ही ला जवाब खबर सामने आई है। जब ट्रेन छपरा के दिघवारा स्टेशन के पास पहुंची तो एक महिला यात्री प्रसव पीड़ा से छटपटाने लगी। इसके बाद ट्रेन में ही आरपीएफ कर्मियों के सहयोग से महिला की डिलीवरी करवाई गई।

Woman gave birth son with help of Railway Protection Force in Vaishali Express Train
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली (New Delhi) से बिहार (Bihar) के सहरसा (Sarhasa) के लिए जा रही 02554 डाउन वैशाली एक्सप्रेस ट्रेन (Vaishali Express Train) में बीच रास्ते एक महिला यात्री अचानक प्रसव पीड़ा (passenger labor pains) से तड़पने लगी। आरपीएफ (RPF) की मदद से ट्रेन में ही महिला की डिलीवरी Woman delivery in train() करवाई गई। जहां महिला एक स्वस्थ्य बेटे को जन्म दिया। जानकारी के अनुसार वैशाली एक्सप्रेस ट्रेन की एस वन बोगी में उस वक्त अजब-गजब स्थितियां उत्पन्न हो गईं कि जब एक महिला यात्री सोनपुर-छपरा रेल खंड (Sonpur-Chhapra Rail Section) के दिघवारा स्टेशन (Dighwara Station) के पास अचानक से प्रसव पीड़ा से तड़पने लगी। इसके बाद पूरे मामले की जानकारी ट्रेन में मौजूद आरपीएफ कर्मियों को दी गई।

मामले को आरपीएफ इंस्पेक्टर अजय प्रकाश ने गंभीरता से लिया। साथ ही उन्होंने तत्काल एस्कार्ट पार्टी में शामिल आरपीएफ की महिला सिपाही अंचला मिश्रा, खुश्बू कुमारी, नीलू कुमारी के अलावा राजेन्द्र प्रसाद, अमित कुमार आदि को उस बोगी में भेजा। इस टीम ने तुरंत ही महिला यात्री को चादर से घेर लिया और चलती ट्रेन में ही उस महिला की डिलीवरी करवाई गई। जहां उक्त महिला यात्री ने एक स्वस्थ्य बेटे को जन्म दिया।

जब वैशाली एक्सप्रेस ट्रेन सोनपुर प्लेटफार्म संख्या 2 पर पहुंची। तुरंत ही रेलवे अस्पताल के सीएमएस डॉ. एके सिन्हा के निर्देश पर डॉ. श्वेता कुमारी पारा मेडिकल स्टाफ के साथ स्टेशन पर पहुंच गई। जहां डॉ. श्वेता कुमारी ने महिला यात्री और उसके नवजात बच्चे का स्वास्थ्य का परीक्षण किया। जहां से उस महिला यात्री को स्ट्रेचर पर लिटा कर रेलवे के अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। अस्पताल में जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ्य बताए जा रहे हैं।

बताया जा रहा है कि जच्चा-बच्चा के लिए वैशाली एक्सप्रेस ट्रेन को करीब आधे घंटे तक सोनपुर स्टेशन पर रोका गया। उक्त महिला अपने पति के साथ नई दिल्ली से बिहार के सहरसा के लिए यात्रा कर रही थी। आरपीएफ और मेडिकल टीम के इस सराहनीय कार्य के लिए पति-पत्नी ने आभार प्रकृट किया।

Next Story