Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 : महागठबंधन में सब कुछ ठीक नहीं, कुशवाहा आज दोपहर भविष्य की योजनाओं का करेंगे खुलासा

बिहार विधानसभा चुनाव 2020: विपक्षी महागठबंधन में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। आरएलएसपी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा सीट शेयरिंग के मुद्दे पर नाराज हैं व लगभग महागठबंधन से अलग हो चुके हैं। वहीं खबरें हैं कि वे अब बसपा प्रमुख मायावती के संपर्क में हैं। जानकारी है कि उपेंद्र कुशवाहा पटना में आज दोपहर प्रेस वार्ता करेंगे व अपनी भविष्य की योजनाओं को जनता के बीच रख सकते हैं।

upendra kushwaha will reveal future plans by holding press talks in patna this afternoon
X
आरएलएसपी प्रमुश उपेंद्र कुशवाहा

बिहार में विधानसभा चुनावों की तारीखों के ऐलान के साथ ही सियासी सरगर्मियां तेज हो गई हैं। साथ ही सूबे में सियासी उथल-पुथल भी जारी है। जानकारी है कि विपक्षी महागठबंधन में सीट शेयरिंग के मामले को लेकर आरएलएसपी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा नाराज हैं व विपक्षी महागठबंधन से लगभग अलग ही हो चुके हैं। वहीं उपेंद्र कुशवाहा अपने लिये नई सियासी जमीन तलाशने में जुट गये हैं। जानकारी है कि पहले उन्होंने एनडीए में भी जाने का प्रयास किया। लेकिन वहां भी उपेंद्र कुशवाहा की बात नहीं बन पाई। अब वे यूपी की पूर्व सीएम एवं बसपा प्रमुख मायावती के नजदीकी में बताये जा रहे हैं। इसी बीच मंगलवार को आरएलएसपी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने ट्वीट कर जानकारी दी है। आज दोपहर दो बजे वे पटना स्थित होटल मौर्य में प्रेस बार्ता कर पत्रकारों को संबोधित करेंगे। जिसमें उपेंद्र कुशवाहा आरएलएसपी कार्यकर्ता और बिहार की जनता के बीच अपनी भविष्य योजनाओं का खुलासा कर सकते हैं। साथ वे अपने नये सहयोगी को भी आरएलएसपी कार्यकर्ताओं और बिहार की जनता के बीच रख सकते हैं।



जानकारी के अनुसार उपेंद्र कुशवाहा और बसपा प्रमुख मायावती के बीच लगभग बात फाइनल हो चुकी है। इसी को लेकर उपेंद्र कुशवाहा गठबंधन की घोषणा कर सकते हैं। याद रहे राजद के के रवैया से नाराज होने के बाद उपेंद्र कुशवाहा ने महागठबंधन से निकलने का मन बना लिया था। बीते दिनों इसको लेकर उपेंद्र कुशवाहा ने बैठक भी की थी।

राजद नेता तेजस्वी यादव ने सोमवार को उपेंद्र कुशवाहा को बड़ा झटका देते हुए उनकी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी को अपने साथ मिला लिया। ऐसी स्थिति में कुशवाहा के सामने अब बिहार में आरएलएसपी के सियासी वजूद को बचाने रखने की समस्या खड़ी हो गई है। कल दिल्ली से लौटने पर कुशवाहा ने कहा था कि उनकी कोई मुलाकात भाजपा नेता भूपेंद्र यादव से नहीं हुई है। ना ही उनकी मुलाकात सीएम नीतीश कुमार से हुई है। कुशवाहा ने एनडीए के नेताओं से चल रही मुलाकातों की अटकलों को पूरी तरह से गलत बताया हैं। कुशवाहा ने कहा था कि आरएलएसपी के साथियों ने उन्हें फैसला लेने के लिए अधिकृत किया है। जब वे फैसला लेंगे तो जानकारी साझा की जाएगी।

Next Story