Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बम ब्लास्ट से दहल उठा सिवान, दो लोग गंभीर रूप से जख्मी, पुलिस ने हिरासत में ली तीन महिलाएं

बिहार के सिवान जिले में बम धमाका हो गया। जिसमें दो लोग गंभरी रूप से जख्मी बताए जा रहे हैं। जिनको प्राथमिक उपचार के बाद पटना के लिए रेफर कर दिया गया है। वहीं पुलिस भी मामले की जांच-पड़ताल में जुट गई है।

Two people seriously injured in Siwan bomb blast bihar crime news
X

सिवान 

बिहार (Bihar) के सिवान (Siwan) जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। जानकारी के अनुसार जिले के हुसैनगंज थाना इलाके में स्थित जुड़कन गांव में रविवार को अचानक एक बम ब्लास्ट (bomb blast in siwan) हो गया। साथ ही धमाके की आवाज से पूरा दहल उठा। बताया जा रहा है कि बम ब्लास्ट में पिता और उनका तीन साल का बेटा गंभीर रूप से जख्मी (father son injured in bomb blast) हो गए हैं। दूसरी ओर बम बनाने वाला शख्स गांव का ही रहने वाला बताया जा रहा है। जो धमाके के बाद से ही फरार हो गया है। मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। जिसके तुरंत बाद सिवान का यह जुड़कन गांव पुलिस (Police) छावनी में तब्दील हो गया।

गांव के लोगों के बताए अनुसार जुड़कन गांव (Judkan Village) निवासी सगीर साईं पटाखा बनाने का कार्य करता है। इसके अवाला उसके पूर्वज और इस वक्त आसपास के अन्य लोग भी शादी-विवाह के मौकों पर पटाखे बनाने व इनकी सप्लाई करने का कार्य करते हैं। बताया जा रहा है कि रविवार की दोपहर को सगीर साईं जुड़कन गांव में अपने हाथ में झोला लेकर आया। इसी दौरान जुड़कन गांव का विनोद मांझी अपने 3 साल के बेटे शिवम कुमार के साथ वहां से गुजर रहा था। परिवार के लोगों के मुताबिक पीड़ित विनोद मांझी बेटे को लेकर नजदीक की दुकान में से कुरकुरे खरीदने के लिए गए हुए थे। इस बीच बारिश तेज हुई तो वो बेटे के साथ मिठाईलाल की करकटनुमा घर में आसरा लेने के लिए रुक गए। यहीं पर सगीर साईं नामक शखस ने विनोद मांझी को झोला पकड़ने के लिए दे दिया। इसी दौरान झोले में पड़ा हुआ बम फूट गया और जोरदार ब्लास्ट हो गया। धमाके से करकटनुमा छत टूट गई व अन्य दीवारों में दरारें भी आ गईं।

पटना रेफर किए गए जख्मी विनोद मांझी

जोरदार ब्लास्ट की आवाज सुनते ही गांव वाले घटनास्थल की ओर दौड़े जहां से काफी धुआं निलल रहा था। जहां लोगों ने देखा कि विनोद मांझी खून से लथपथ पड़े हैं और साथ में उनका तीन वर्षीय बच्चा भी गंभीर रूप से जख्मी है। जो दर्द से कराह रहा था। परिवार के लोगों की चीख-पुकार के बीच दोनों घायलों को सदर अस्पताल लेकर जाया गया। यहां पर डॉक्टरों ने विनोद मांझी की स्थिति नाजुक जानकर प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें बेहर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया है। जख्मी बच्चे शिवम की हालत भी नाजुक बताई जा रही है। हादसे की जानकारी मिलते ही हुसैनगंज थाना अध्यक्ष राम बालक यादव दलबल के साथ मौके पर पहुंचे। जहां उन्होंने आसपास के लोगों से पूरे मामले के संबंध में बातचीत की।

तीन महिलाएं हिरासत में ली गईं

वहीं जानकारी मिल रही है कि पुलिस सगीर साईं के परिवार की तीन महिलाओं को हिरासत में लिया है। जिनसे हिरासत में पुलिस मामले को लेकर पूछताछ कर रही है। जिससे आरोपी सगीर साईं के बारे में जानकारी जुटाई जा सके। मामले पर एसडीपीओ जितेंद्र पांडेय ने कहा कि पुलिस जांच पड़ताल कर रही है। अभी कुछ भी स्पष्ट नहीं कहा जा सकता है। गांव वालों का कहना है कि सगीर साईं भी इस बम ब्लास्ट में जख्मी हुआ है, पर उसको फिर किसी ग्रामीण ने नहीं देखा।

Next Story