Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तेज प्रताप ने पिता लालू की रिहाई के लिए राष्ट्रपति के पते पर भेजे लाखों 'आजादी पत्र' और हिन्दी वर्णों के जरिए समझाया घोटालों का अर्थ

लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने पटना स्थित सामान्य डाकघर 'GPO' से आज महामहिम राष्ट्रपति के पते पर लाखों 'आजादी पत्र' भेज दिए। साथ ही उम्मीद जाहिर की है कि अब उनके पिता लालू यादव रिहा हो जाएंगे। इससे पहले तेज प्रताप ने बिना नाम लिए नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए 'क', 'ख', 'ग', व 'घ' 'हिन्दी वर्णों' के माध्यम से घोटालों का अर्थ समझाया।

Tej Pratap sent freedom letters to President Ramnath Kovind for release his father Lalu Prasad Yadav and attack nitish kumar hindi news
X

पटना: तेज प्रताप यादव

बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री एवं राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव चारा घोटालों (Fodder Scams) मामलों में सजा काट रहे अपने पिता की रिहाई (Release) के लिए 'लाख' प्रयास करते हुए नजर आ रहे हैं। इस कड़ी में गुरुवार को राष्ट्रीय जनता दल नेता तेज प्रताप यादव (Rashtriya Janata Dal leader Tej Pratap Yadav) ने पटना (Patna) स्थित समान्य डाकघर पहुंचकर लाखों 'आजादी पत्र' महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के पते (Addresses of President Ramnath Kovind) पर भेजे। इस बात की जानकारी तेज प्रताप की ओर से ट्विटर पर भी जारी की गई है। जिसमें तेज प्रताप यादव ने बताया कि यह मुहिम एक समाजवादी विचारधारा (Socialist Ideology) की स्वतंत्रता के लिए चलाई जा रही है। इस मुहिम के अंतर्गत बिहार (Bihar) के तमाम जिलों से आए लाखों 'आजादी पत्रों' को गुरुवार को पटना स्थित समान्य डाकघर (GPO) जा कर महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के पते पर पोस्ट करवाया। वहीं तेज प्रताप यादव ने उम्मीद जताई है कि महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इन आजादी पत्रों को पढ़ने के बाद जनमानसों की आवाज को जरूर सुनेंगे। साथ ही तेज प्रताप यादव को उम्मीद है कि इसके बाद उनके पिता लालू यादव प्रसाद जेल से रिहा हो जाएंगे।

लालू प्रसाद यादव चारा घोटालों में काट रहे हैं सजा

आपको बता दें राजद प्रमुख लालू यादव को चारा घोटाले से जुड़े चार मामलों में सजा हो चुकी है। वो रांची की होटवार जेल में सजा काट रहे हैं। वहीं लालू यादव को इनमें से तीन मामलों में झारखंड हाईकोर्ट से बेल भी मिल चुकी है। चौथे मामले में लालू यादव की ओर से जमानत के लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है। जिस पर सुनवाई कल हो सकती है। अगर उन्हें कल बेल मिली तो वे जेल से बाहर आ जाएंगे। इससे पहले लालू यादव को निमोनिया की शिकायत के बाद रांची रिम्स अस्पताल से दिल्ली स्थित एम्स ईलाज के लिए रेफर किया गया था। जहां उनका अभी भी उपचार चल रहा है।

तेज प्रताप यादव ने 'हिंदी वर्णमाला' के माध्यम से समझाया घोटालों का अर्थ

राजद नेता तेजप्रताप यादव ने इससे पहले आज ही ट्वीट के जरिए बिना नाम लिए बिहार सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के खिलाफ जोरदार निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट में लिखा कि 'क' से किसान क्रेडिट कार्ड घोटाला, 'ख' से खाद सब्सिडी घोटाला, 'ग' से ग्रामीण बैंक घोटाला व 'घ' से घोटालों के सरदार ने 15 वर्षों के अपने राज में जितना घोटाला किया है। उतने तो 'हिंदी वर्णमाला' में वर्णों की संख्या भी नहीं होती है।

Next Story