Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Bihar Assembly Elections 2020: सुष्मिता देव ने महिलाओं की दुर्दशा पर जाहिर की नाराजगी, बोली - बदल दो सरकार

Bihar Assembly Elections 2020: बिहार क्रांति वर्चुअल महासम्मेलन में कांग्रेस नेता सुष्मिता देव ने सूबे में महिलाओं की दुर्दशा पर नाराजगी व्यक्त की। साथ ही उन्होंने बिहार में एनडीए सरकार को बदलने की जरूरत पर जोर दिया।

सुष्मिता देव ने महिलाओं की दुर्दशा पर जाहिर की नाराजगी, बोली - बदल दो सरकार
X
बिहार क्रांति वर्चुअल महासम्मेलन में कांग्रेस नेता सुष्मिता देव ने सूबे में महिलाओं की दुर्दशा पर नाराजगी व्यक्त की।

Bihar Assembly Elections 2020: बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर अखाड़े सज चुके हैं। इसी कड़ी में सोमवार को बिहार कांग्रेस द्वारा बिहार क्रांति वर्चुअल महासम्मेलन का आयोजन किया गया। बिहार क्रांति वर्चुअल महासम्मेलन के दौरान मुख्य वक्ता की भूमिका राष्ट्रीय महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुष्मिता देव ने निभाई।

इस दौरान बिहार प्रभारी अजय कपूर और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता भी मौजूद रहे। महासम्मेलन को संबोधित करते हुये सुष्मिता देव ने बिहार की एनडीए सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। इसके अलावा सुष्मिता देव ने बिहार में महिलाओं की दुर्दशा पर गहरी नाराजगी जाहिर की।

महासम्मेलन के दौरान सुष्मिता देव ने मुजफ्फरपुर, पटना और सिवान में की बलात्कारों की वारदातों को लेकर सरकार को घेरा। साथ ही सुष्मिता देव ने कहा कि बिहार में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि महिलाओं और बच्चियों के साथ बलात्कार की घटना को अंजाम देने के बाद विडियो वायरल किये जा रहे हैं। याद रहे हाल में ही बिहार की राजधानी पटना और सिवान जिलों में दुष्कर्म की वारदातें सामने आई थी। जहां आरोपियों ने बलात्कार की घटना को अंजाम देने के बाद वीडियो तक वायरल कर दिये थे।



मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड को लेकर भी गहरा आक्रोश व्यक्त किया

बिहार क्रांति वर्चुअल महासम्मेलन को संबोधित करते हुये सुष्मिता देव ने बिहार में बीते वर्ष में सामने आये मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड को लेकर भी गहरा आक्रोश व्यक्त किया। सुष्मिता देव ने कहा कि मुजफ्फरपुर गृह कांड में छोटी-छोटी बच्चियों के साथ यौन शोषण की घटनायें होती रही, लेकिन सरकार को उसकी भनक तक नहीं लगी। वहीं सुष्मिता देव ने सरकार पर पूरे मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड को दबा देने के आरोप लगाये है।



सुष्मिता देव ने इस दौरान आशाकर्मियों को लेकर भी चिंता जाहिर की

सुष्मिता देव ने इस दौरान आशाकर्मियों को लेकर भी चिंता जाहिर की। सुष्मिता देव ने कहा कि बिहार में कोरोना महामारी के दौरान आशाकर्मियों ने पूरी निष्टा के साथ अपनी जिम्मेदारी निभाई है और निभा भी रही हैं। लेकिन राज्य सरकार द्वारा आशाकर्मियों के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन नहीं किया जा रहा है। सुष्मिता देव ने आशाकर्मियों को उनके तय मानदेय 1000 रुपये भी कई महीनों से नहीं दिये जाने की बाते कही हैं। इन सभी अव्यवस्थाओं के बीच सुष्मिता देव ने बिहार की एनडीए सरकार को बदलने की जरूरत पर जोर दिया। इसके अलावा कांग्रेस के अन्य नेताओं ने भी महा सम्मेलन को संबोधित किया।




Next Story