Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Bihar Assembly Elections 2020: संजय झा बोले - हमने सात निश्चय पर बहुत काम किया व इसको लेकर पार्टी चुनाव में जायेगी

Bihar Assembly Elections 2020: पटना में आज जदूय के पार्टी मुख्यालय पर प्रेस वार्ता में संजय कुमार झा ने कृषि व सिंचाई विषय से जुड़ी नीतीश कुमार सरकार की उपलब्धियां गिनवाई। संजय कुमार झा ने कहा कि हमने सात निश्चय को लेकर बहुत काम किया व इसको लेकर पार्टी चुनाव में जायेगी।

sanjay kumar jha said that we have done a lot of work on seven decisions and the party will go to the polls with this
X
पटना में जदयू पार्टी मुख्यालय पर प्रेस वार्ता को संबोधित करते बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा।

Bihar Assembly Elections 2020: बिहार राजधानी पटना में स्थित जदयू के पार्टी मुख्यालय में गुरुवार को बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा ने प्रेस वार्ता को संबोधित किया। इस दौरान संजय कुमार झा द्वारा बिहार उनकी सरकार द्वारा सूबे में किये गये कृषि व सिंचाई से संबंधित कार्यों के बारे में जानकारी दी गई। वहीं उन्होंने बताया कि बिहार में हमारी सरकार द्वारा बिहार में सात निश्चय को लेकर बहुत सारा काम किया गया है। इस सात निश्चय को लेकर ही हम लोग चुनाव में जायेंगे। संजय कुमार झा ने कहा कि आगे भी पार्टी अलग - अलग विषयों पर अपनी बात रखेगी। आज कृषि व सिंचाई विषय पर हम अपनी बात रख रहे हैं।



जदयू नेता संजय कुमार झा द्वारा कृषि और सिचांई से जुड़ी उपलब्धियों को प्रेस वार्ता के दौरान विस्तार से भी रखा गया। जदयू नेता ने बताया कि 2005 के पहले 15 सालों में मात्र 7 हज़ार 115 करोड़ रुपया खर्च किया गया था। संजय कुमार झा ने बताया कि जब झारखंड भी बिहार का ही हिस्सा था। लेकिन 2005 से लेकर अब तक नीतीश कुमार की सरकार ने 33 हज़ार 164 करोड़ रुपया किसानों के खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचाने के लिए खर्च कर चुकी है।

संजय कुमार झा ने कहा कि 2005 के पहले 15 सालों में मात्र 2.65 लाख हेक्टेयर सिंचाई क्षमता का उपयोग हुआ था। वही नीतीश कुमार के 15 सालों में 17 लाख हेक्टेयर से ज्यादा ज़मीनों तक सिंचाई का पानी पहुंचाने के लिए रीस्टोरेशन का काम हुआ है। 4.06 लाख हेक्टेयर ज़मीन तक नए तरीकों से पानी पहुंचाया गया है।



जदयू नेता संजय कुमार झा ने कहा कि सात निश्चय पार्ट 2 के में जैसा नीतीश कुमार ने वादा किया है। हर एक खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचाया जाएगा। संजय कुमार झा ने कहा कि 2005 के पहले 15 सालों में मात्र 7 हज़ार 115 करोड़ रुपया खर्च किया गया था। जब झारखंड भी साथ था। लेकिन 2005 से लेकर अब तक नीतीश कुमार जी की सरकार ने 33 हज़ार 164 करोड़ रुपया किसानों के खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचाने के लिए खर्च कर चुकी है।

बिहार के जल संसाधन मंत्री एवं जदयू नेता ने बताया कि फल्गु नदी में पानी को सहेजने के लिए भी काम शुरू हो गया है। गंगा उद्भव योजना में गया, राजगीर, नवादा में पीने का पानी पहुंचाने का काम चल रहा है। बिहार के हर घर में बिजली पहुंची है। अब कृषि के लिए अलग से फीडर पर काम शुरू हो गया है। जदयू नेता ने कहा कि बिहार का जो डबल डिजिट आप देखते हैं। ग्रोथ उसमें लगभग 25 प्रतिशत कॉन्ट्रीब्यूशन कृषि का है।



संजय कुमार झा ने बताया कि बिहार में कृषि में क्षेत्र में विकास के लिए रोड मैप लाया गया है। जिसका असर यह हुआ है कि बिहार में कृषि क्षेत्र में दोगुना उत्पादन बढ़ा है। संजय कुमार झा ने कहा कि यह नीतीश कुमार के ही रोडमैप और प्लानिंग का नतीजा है। देश में मिथिला के मखाने को अलग पहचान मिली है।



जदयू नेता संजय कुमार झा ने बताया कि हम तीन कृषि रोड मैप लेकर आये। पहला 2007 से 2012 चला, दूसरा 2012 से 2017 चला, तीसरा 2017 से 2022 अभी कृषि रोड मैप चल रहा है। 5 वर्षों में बिहार भारत में गेहूं व चावल उत्पादन में 6वें पायदान पर है। मक्का उत्पादन में तीसरा, व सब्जी उत्पादन में भी तीसरा है।

संजय कुमार झा ने कहा कि जलवायु के हिसाब से मधुबनी खगरिया, भागलपुर, बांका, मुंगेर गया एवं नालंदा के 40 गांवों में फसल चक्र यानि कि वहां के जलवायु के हिसाब से सरकार खेती करवा रही है। बिहार में इससे उपज के साथ किसानों का फायदा भी बढ़ा है।


Next Story