Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

'तेरी मेहरबानियां' गाने की धुन के साथ नम आखों से ग्रामीणों ने कुत्ते टोनी को दी अंतिम विदाई, जाने वजह

इंसान व कुत्तों के बीच प्रेम आपने कई बार देखा व सुना होगा। कुत्तों व इंसान की दोस्ती पर कई फिल्‍में बनी हैं। बॉलीवुड में सन 1985 में फिल्म 'तेरी मेहरबानियां' आई थी। इसमें जैकी श्रॉफ व पूनम ढिल्लो मुख्‍य किरदार में थे और एक कुत्ते ने भी अभियन किया था। अब एक ऐसी कहानी बिहार के समस्तीपुर से सामने आई है।

samastipur villagers gave final farewell for dog tony with tune of teri mehrabaniyan song Bihar amazing news
X

समस्तीपुर

बिहार (Bihar) के समस्तीपुर (Samastipur) जिले में निकाली गई एक अनोखी शव यात्रा ने 'पशु-प्रेम की अनूठी मिशाल' 'Unique love of animal love' पेश कर दी है। समस्‍तीपुर में कुत्‍ते टोनी की मौत (Dog tony died) हो गई। जिसके बाद कुत्‍ते टोनी की शव यात्रा (funeral of the dog Tony) निकाली गई व उसको अंतिम विदाई दी गई। आगे ठेले पर कुत्ते का पार्थिव शरीर यानि शव तो पीछे पूरा गांव 'तेरी मेहरबानियां' गीत की धुन (Teri Meherbaniya song tune) के साथ आगे बढ़ रहा था।

आपने फिल्म तेरी मेहरबानियां तो जरूर देखी होगी। जिसमें मालिक के प्रति कुत्ते ने जो वफादारी निभाई थी। उसको हर कोई याद करता है। पर हम लो स्टोरी आपके बीच रखने जा रहे हैं, वो कोई फिल्मी नहीं, बल्कि हकीकत जीवन की कहानी है। यहां वफादार कुत्ते की मौत के बाद पूरा गांव उसकी शव यात्रा में शामिल हुआ। इस मौके पर हर किसी की आंखें नम नजर आईं।

जानकारी के अनुसार समस्तीपुर के विद्यापति नगर में कुत्‍ते टोनी की अचानक मौत हो गई। उसके बाद फूल-माला व कफन में लपेटकर कुत्ते की शव यात्रा निकाली गई। ठेले पर आगे- आगे कुत्ते का शव था तो ग्रामीण उसके पीछे पीछे 'तेरी मेहरबानियां' गीत की धुन के साथ आगे बढ़ते रहे थे। विद्यापति नगर के शेरपुर गांव निवासी नरेश साह कुत्ते टीनी को अपने परिवारिक सदस्य से बढ़कर प्यार देते थे। इसके अलावा मोहल्ले वाले भी कुत्ते टोनी का ख्याल रखते थे। बदले में टोनी मालिक समेत पूरे मोहल्ले की रखवाली करता था।

बताया जा रहा है कि नरेश साह कुत्ते टीनी को 12 वर्ष पहले सोनपुर मेले से खरीदकर लाए थे। तबही से बेजुबान टोनी सुरक्षा कर्मी की तरह उनका साया बनकर साथ रह रहा था। यही कारण है कि मरने के बाद भी हिन्दू रीति रिवाज के साथ टोनी की अर्थी सजाई गई व इसको अंतिम विदाई दी गई। वाया नदी के किनारे पर टोनी के शव को दफनाया गया।

टोनी के मालिक नरेश साह पेशे से डॉक्टर हैं जो कहते हैं कि यह मेरे लिए भाग्यवान था। वो जब से आया मेरा भाग्य बदल गया। साह ने कहा कि साल 1985 में आई फिल्म तेरी मेहरबानियां में जैकी श्रॉफ व पूनम ढिल्लन के साथ कुत्ते की दोस्ती को दिखाया गया था। जो आज हकीकत के जीवन में समस्तीपुर में देखने के लिए मिली। हमको यह प्रेम सीख देता है कि इंसान को भी-इंसान के साथ मोहब्बत रखनी चाहिए।

Next Story