Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Gang Rape: नाबालिग के साथ दोस्त के साथियों ने किया था सामूहिक दुष्कर्म, पुलिस ने चार आरोपी दबोचे

बिहार के समस्तीपुर में नाबालिग छात्रा से हुए गैंगरेप के मामले में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। पुलिस पूछताछ में पता चला है कि नाबालिग के साथ उसके दोस्त के साथियों ने ही साहूहिक दुष्कर्म किया था। पुलिस ने मामले चार आरोपियों को दबोच लिया है।

Samastipur gang rape case minor girl was gang raped by her friend associates four accused arrested bihar crime news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) के समस्तीपुर (Samastipur) में बीते दिनों नाबालिग छात्रा के साथ हुई दरिंदगी (rape with minor girl) मामले में दिल दहला देने वाला खुलासा हुआ है। पुलिस ने गैंगरेप (Gange Rape) मामले में कार्रवाई करते हुए चार आरोपियों को दबोच लिया है। बीते 17 सितंबर को 10वीं नाबालिग छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म (gang rape with minor girl) करने का केस सामने आया था। वारदात के बाद से पूरे क्षेत्र में सनसनी मच गई थी। महिला थाना ने पीड़ित लड़की का सदर अस्पताल में मेडिकल जांच कराई और उसके बयान के आधार पर केस दर्ज किया था।

रोसड़ा के डीएसपी सहियार अख्तर ने कहा कि समस्तीपुर के महिला थाना में पीड़िता के बयान पर केस दर्ज करवाया गया था। नाबालिग के साथ 5 युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। वारदात में शामिल 4 युवक दबोच लिए गए हैं। वहीं अंतिम फरार आरोपी की खोज जारी है। मामले में युवक मनीष कुमार (पीड़िता का कथित दोस्त), ललित सिंह, दिलीप ठाकुर और पप्पू कुमार आरोपियों को अरेस्ट किया गया है। वहीं पांचवें आरोपी का नाम कैलाश महतो बताया गया है। कैलाश का अपराधिक इतिहास भी मिला है।

बैंक के लिए घर से निकली थी छात्रा

जानकारी के अनुसार छात्रा परिवार वालों से बैंक जाने की बात कह कर घर से गई हुई थी। जहां से वह देर शाम को अपने कथित दोस्त संग एक ही साइकिल से घर वापस आ रही थी। बीच रास्ते में उन्हें चार युवकों ने घेर लिया। साथ ही किशोरी के मित्र को बंधक बना लिया और सभी लड़कों ने किशोरी के साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। फिर सभी आरोपी मौके से फरार हो गए। यहां से उसका मित्र साइकिल से पीड़िता को विभूतिपुर थाना लेकर पहुंचा। जहां पुलिस को पूरी वारदात की सूचना दी गई। इसके बाद यहां से पीड़िता को महिला पुलिसकर्मी (Police) के साथ समस्तीपुर महिला थाना भेज दिया गया।

पीड़िता के दोस्त से सख्ती से की गई पूछताछ

मामले को लेकर जब पुलिस ने मनीष कुमार को हिरासत में लिया। जहां पुलिस को मनीष ने बताया कि उसे बंधक बनाकर पीड़िता के साथ कुछ युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म कर दिया। पर पुलिस ने मामले में जांच-पड़ताल की तो मामला दिल दहला देने वाला सामने आया। बाद में पुलिस ने पीड़िता के कथित दोस्त मनीष से सख्ती से पूछताछ की। तब मनीष ने बताया कि वह लड़की को लेकर रोसड़ा गया हुआ था। जहां से वह देर शाम में लड़की के साथ घर वापस आ रहा था। बीच रास्ते में उसके कुछ मित्रों ने उसे बंधक बना लिया और छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दे डाला।

Next Story