Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

महिला संग वायरल तस्वीर में दिख रहे डॉक्टर की पीट-पीटकर हत्या, पीड़ित परिवार ने कही ये चौंकाने वाली बात

बिहार के जमुई जिले से एक सनसनीखेज हत्या मामला सामने आया है। यहां रात में अवैध संबंधो के शक में पीट-पीटकर एक डॉक्टर की हत्या कर दी गई। हत्या की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले में जांच-पड़ताल शुरू कर दी है। मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

ruthless murder of doctor on suspicion of illicit relationship in jamui bihar crime news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) के जमुई (jamui) जिले में सोमवार की रात में प्रेम प्रसंग (Love Affair) और अवैध संबंधों के शक में पीट-पीटकर एक ग्रामीण डॉक्टर की हत्या (murder on suspicion of illicit relations) कर दी गई। यह वारदात जिले के गिद्धौर थाना इलाके के सेवा पंचायत स्थित निचली सेवा रविदास बस्ती की है। घटना के दौरान मारा गया युवक सेवा गांव पंडित बस्ती के रहने वाले नुनूलाल पंडित का बड़ा बेटा मनोज पंडित था।

जानकारी के अनुसार, मृतक मनोज सेवा पंचायत स्थित निचली सेवा रविदास बस्ती में एक प्राइवेट क्लीनिक संचालित करता था। वारदात के वक्त मनोज अपने क्लीनिक में बैठा हुआ था। इस बीच ही गौतम रविदास और उसके पिता नागेश्वर रविदास अपने कई साथियों के साथ वहां पहुंचे। फिर ये लोग मनोज पंडित को क्लीनिक से खींचकर बाहर ले आए। जिसके बाद इन लोगों ने उसकी पिटाई शुरू कर दी। गंभीर रूप से घायल मनोज ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया।

मामले की सूचना मिलने पर परिजन मौके पर पहुंचे। वह उसे मनोज को दिग्विजय सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे। यहां डॉक्टरों ने मनोज को मृत घोषित कर दिया। मामले की सूचना पर पुलिस भी अस्पताल पहुंची। वहां से पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जमुई सदर अस्पताल भेज दिया।

पीड़ित परिवार ने हत्या मामले में सात आरोपियों को नामजद अभियुक्त बनाया है। हत्याकांड के बाद से गांव में तनाव का माहौल बना हुआ है। वहीं पुलिस (Police) आरोपियों को दबोचने के लिए लगातार छापेमारी की कार्रवाई कर रही है। सूचना है कि हत्या मामले (octor murder case) में पुलिस ने एक आरोपी को भी दबोच लिया है।

मृतक के भाई ने महिला को भी जिम्मेदार ठहराया

आरोप है कि मनोज का एक महिला के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। इस महिला के साथ ही मनोज की एक तस्वीर भी वायरल हुई थी। इस वजह से ही मनोज को मौत के घाट उतार दिया गया। दूसरी ओर मृतक के भाई ने कहा कि उसके बड़े भाई गांव में डॉक्टर थे। जो घरों में इलाज के लिए जाते थे। यदि इस बीच उन्हें किसी महिला से प्रेम हो गया। बाद में महिला के साथ उनकी तस्वीर वायरल हो गई तो इसके लिए केवल उनके भाई जिम्मेदार नहीं हैं। इसके लिए महिला भी उतनी ही जिम्मेदार है। लेकिन लोगों ने मेरे भाई की ही पीट-पीटकर हत्या के घाट उतार दिया।

Next Story