Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजद बोली- कोरोना के उपचार की प्राइवेट अस्पतालों को मन्यता देकर दे दी गई लूट की छूट, एलजेपी ने भी उठाये सवाल

भाजपा की सहयोगी पार्टी एलजेपी ने भी बिहार में कोरोना से निपटने के इंतजामों पर विरोधियों के सुर में-सुर में मिला दिया है। एलजेपी ने कहा कि हम बिहार में कोरोना टेस्टिंग बढ़ाने की जरूरत पर पहले से जोर दे रहे थे। पर अब पीएम नरेंद्र मोदी के हस्तक्षेप के बाद आशा है। सूबे में टेस्टिंग बढ़ेगी। वहीं राजद ने कहा कि सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों को कोरोना का इलाज करने की मान्यता देकर जनता को खुलकर लूटने की छूट दे दी है। साथ ही इस खुली लूट पर लगाम कसने की मांग उठायी।

private hospitals
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार में विपक्षी पार्टी राजद ने कोरोना संक्रमण के इलाज करने की प्राइवेट अस्पतालों को मान्यता दिये जाने को जनता के साथ धोखा करार दिया है। पश्चिम चंपारण राजद की ओर से बुधवार को ट्वीट कर कहा गया कि लालची बिहार सरकार जनता का खून चूसने दे रही है। साथ ही कहा कि बिहार सरकार प्राइवेट अस्पतालो को तो कोरोना उपचार की मान्यता देकर उनकी जरूरतों को तो पूरा करवा रही है। लेकिन सरकार को आम जनता का कोई ख्याल नहीं है। वहीं कहा गया कि सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों को कोरोना महामारी का इलाज कराने की मंजूरी देकर जनता को खुलकर लूटने की छूट दे दी है। राजद ने इस पर लगाम कसने की मांग उठाई है। साथ ही राजद ने इस खुली लूट पर सीएम नीतीश कुमार से जवाब मांगा है।



एलजेपी ने भी विरोधियों के सूर में सूर मिलाये

बिहार में कोरोना महामारी से निपटने को लेकर सूबे की बदहाल व्यवस्थाओं पर कांग्रेस, राजद समेत तमाम विपक्षी लगातार हमलावर हैं। लेकिन अब इस कड़ी में सत्ताधारी पार्टी भाजपा की सहयोगी एलजेपी भी जुड़ गई है। जानकारी है कि बुधवार को एलजेपी के आधिकारिक ट्विटर अकांउट से ट्वीट कर बिहार सरकार पर निशाना साधा गया है। ट्वीट को एलजेपी के अध्यक्ष चिराग पासवान द्वारा लाइक भी किया गया है। एलजेपी ने कहा कि पूर्व से ही लोक जनशक्ति पार्टी यह मांग करती आयी है कि बिहार में कोरोना टेस्टिंग बढ़ाने की आवश्यकता है। वहीं एलजेपी ने कहा कि अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मामले पर हस्तक्षेप किया है व बिहार सरकार को सूबे में कोरोना टेस्टिंग बढ़ाने का सुझाव दिया है। जिसके बाद हमें आशा ही नहीं बल्कि विश्वास है कि बिहार सरकार अब कोरोना की टेस्टिंग बढ़ायेगी। ताकि बिहार को कोरोना से सुरक्षित किया जा सके।



सूबे में एक दिन में की जायेंगी एक लाख कोरोना टेस्टिंग: नीतीश कुमार

पीएम नरेंद्र मोदी ने इससे पहले बिहार में कोरोना की स्थिति का जायजा लेने के लिये सीएम नीतीश कुमार के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बैठक की थी। बताया जाता है कि बैठक के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने हस्तक्षेप कर सीएम नीतीश कुमार को बिहार में कोरोना टेस्टिंग बढ़ाने का सुझावा दिया था। बैठक के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी को सीएम नीतीश कुमार ने बताया कि बिहार में प्रत्येक दिन एक लाख सैंपल की जांच की जायेगी होगी। वहीं सीएम ने बताया कि सूबे में कोरोना मरीजों के लिए 70 हजार बेड की व्यवस्था की जा रही है।

Next Story