Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तेजस्वी यादव से छोटे दल भी हुये नाराज, मांझी कर चुके पहले ही गुडबाय: राजीव रंजन प्रसाद

जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि जीतन राम मांझी ने विपक्षी महागठबंधन से गुडबाय कर ही दी है। वहीं अन्य छोटे दल भी तेजस्वी यादव से नाराज हैं। इसलिये बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में इनकी स्थिति खराब होनी तय है।

rajiv ranjan prasad said that the situation of mahagathbandhan and tejashwi yadav is certain to worsen in bihar assembly elections
X
जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद

बिहार में विधानसभा चुनाव की सुगबुगाहट के बीच सियासी दल एक - दूसरे पर व्यंग बाण भी चला रहे हैं। इसी कड़ी में जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने गुरुवार को ट्वीट कर विपक्षी पार्टियों कांग्रेस और राजद पर निशाना साधा है। राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि जब कोई राज नेता अहंकार और अनुभवहीनता का शिकार हो जाता है तो उसका बेड़ा खर्क होना तय होता है। उन्होंने कहा कि बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष एवं राजद नेता तेजस्वी यादव अनुभवहीनता व अहंकार दोनों के शिकार हैं और ये दोनों बातें राजद नेता तेजस्वी यादव पर लागू होती हैं। इसलिये आगामी बिहार विधानसभ चुनाव में तेजस्वी यादव का बेड़ा गर्क होना तय हो गया है। उन्होंने कहा कि पहले ही जीतन राम मांझी अपनी पार्टी हिन्दुस्तान आवाम मोर्चा 'हम' समेत तेजस्वी यादव की अहंकारी पार्टी एवं विपक्षी महागठबंधन को गुडबाय कर चुके हैं।

डूबती हुई नाव पर आखिर कौन सियासी दल सवार होना चाहेगा: जदयू

जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने अब बिहार में विपक्षी महागठबंध एवं तेजस्वी यादव से अब अन्य छोटे सियासी दलों को भी नाराज नज़र आते हुये बताया है। साथ ही राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि राजद की डूबती हुई नाव पर आखिर कौन सियासी दल सवार होना चाहेगा। इसके अलावा उन्होंने कहा कि राजद ने पहले तो लोकसभा चुनाव 2019 में राजद ने बिहार में कांग्रेस की हैसियत कमतर दिखाने के लिये छोटे दलों को कांग्रेस के आड़े कर दिया था। लेकिन अब कांग्रेस के दबाव की वजह से तेजस्वी यादव द्वारा विपक्षी महागठबंधन में अब छोटे दलों की उपेक्षा की जा रही है। इसलिये बिहार मे विपक्षी महागठबंधन के छोटे सियासी दल तेजस्वी यादव और कांगेस से नाराज हैं।




Next Story