Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Video: शिकायत लेकर पहुंची पीड़िता को पुलिसकर्मियों ने भद्दी गालियां देकर भगाया, अब यहां लगाई गुहार

बिहार में नीतीश कुमार के राज में सुशासन होने दावे किये जाते हैं। लेकिन जो वीडियो सामने आया है, उसमें एक महिला की पीड़ा देखकर ये सभी दावे फीके पड़ जाते हैं।

policemen abused woman in sarhasa bihar
X

बिहार पीड़ित महिला

बिहार में अक्सर भाजपा, जदयू नेताओं द्वारा नीतीश कुमार के राज में सुशासन कायम होने के दावे किये जाते हैं। वहीं एक वीडियो सामने आया है, जिसमें एक महिला के दर्द को सुनकर और देखकर भाजपा और जदयू नेताओं के ये सभी दावे पूरी तरह से फेल होते हुये नजर आ रहे हैं। वीडियो में पीड़ित महिला यह आरोप लगा रही है कि उनके 12 वर्षीय लड़के का कई महीनों पहले अपहरण हो गया है। पीड़ित महिला का कहना है कि वो इस मामले को लेकर एसपी और पुलिस के पास जाते हैं वो वहां उनको गालियां दी जाती हैं। महिला का आरोप है कि एसपी कहते हैं कि बच्चे को मार दिया गया है। वहीं पुलिस अधिकारी गाली देकर कहता है कि जा तेजस्वी यादव के पास चली जा।

महिला दारोगा पर भी गालियां दिये जाने का आरोप लगा रही है। उक्त दारोगा महिला को वहां से भगा देता है। वहीं महिला का कहना है कि अगर ये सभी हमारी मदद नहीं करेंगे तो अब हम किसके पास जायें। महिला का कहना है कि वो मामले को लेकर डीआईजी तक जा चुकी हैं। लेकिन कहीं भी उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई है। वहीं वीडियो में उक्त महिला इस घटना को बिहार के सहरसा जिले की बता रही है। इसके बाद अब पीड़ित महिला राजद नेता तेजस्वी यादव के पास पहुंची है। जो यह दावा कर रही है कि तेजस्वी यादव के यहां से उन्हें भरोसा मिला है।

राजद बोली- महिलाओं को गाली देने वाला कानून समाज में न्याय कैसे कर पाएगा?

राजद शेखपुरा के ट्विटर अकाउंट की ओर से इस वीडियो को सोशल मीडिया पर जारी कर भाजपा और जदयू के खिलाफ निशाना साधा गया है। राजद की ओर से ट्वीट कर लिखा गया कि कानून राज का प्रपंची दम भरने वाली भाजपा, जदयू सरकार के प्रशासनिक अफसर नागरिकों की शिकायतों पर भद्दी भद्दी गालियां देकर भगा देते हैं। वहीं राजद का कहना है कि महाजंगलराज महिलाओं को गाली देने वाला कानून समाज में न्याय कैसे कर पाएगा? क्या इस मामले पर बिहार के सीएम नीतीश कुमार जवाब देंगे?

Next Story