Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नक्सलियों के स्थापना दिवस सप्ताह पर नक्सल प्रभावित जिले किए गए अलर्ट, रेलवे समेत इन्हें बना सकते हैं निशाना

बिहार में भागलपुर और मुंगेर रेंज के तमाम नक्सल प्रभावित जिलों को पुलिस मुख्यालय ने नक्सलियों के स्थापना दिवस सप्ताह यानी कि 21 से 28 सितंबर तक अलर्ट कर दिया है। क्योंकि नक्सली इस दौरान हिंसक घटनाओं को अंजाम दे सकते हैं। साथ ही रेलवे को भी अलर्ट कर दिया गया है।

Police Headquarters alerts Naxal affected districts of Bihar regarding Raising Day week of Naxalites bihar latest news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

पुलिस मुख्यालय (Police Headquarters) ने बिहार के तमाम नक्सल प्रभावित जिलों (All Naxal affected districts of Bihar) को नक्सलियों के स्थापना दिवस सप्ताह (Naxalites Foundation Day Week) यानी कि 21 से 28 सितंबर को लेकर अलर्ट कर दिया है। इस दौरान रेलवे को भी अलर्ट (railway alert) पर रहने के लिए कहा गया है। पुलिस मुख्यालय के मुताबिक नक्सलियों के स्थापना दिवस सप्ताह के दौरान नक्सली हिंसक वारदातों को अंजाम दे सकते हैं। जिलों को भेजी गई अलर्ट रिपोर्ट में स्पष्ट किया गया कि इस काल में नक्सली रेलवे के अलावा अन्य दूसरे सरकारी प्रतिष्ठानों को निशाना बना सकते हैं। इस स्थिति में पुलिस (Police) को अलर्ट व अन्य जरूरी एक्शन के लिए सजग रहना होगा।

बिहार के ये जिले हैं नक्सल प्रभावित

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भागलपुर और मुंगेर रेंज के विभिन्न जिले नक्सल प्रभावित हैं। जिसमें मुंगेर रेंज के लखीसराय, जमुई नक्सल प्रभावित हैं। वहीं भागलपुर रेंज में बांका जिला नक्सल पीड़ित है। वहीं बिहार में जहानाबाद, गया, रोहतास, औरंगाबाद और नवादा सहित कई जिले नक्सल प्रभावित हैं। नक्सलियों के स्थापना दिवस सप्ताह के दौरान इन नक्सल प्रभावित जिलों में पैनी नजर बनाए रखने के लिए कहा गया है।

हालिया नक्सल गतिविधियों पर एक नजर

पिछले कुछ माह में इस तरह की कई नक्सल गतिविधियां (naxal activities) सामने आ चुकी हैं। भागलपुर रेलवे स्टेशन को नुकसान पहुंचा देने की सूचना पर 3 अगस्त की रात में रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा पुख्ता कर दी गई थी। बाद में ज्ञात हुआ कि बरियारपुर थाना इलाके स्थित चिड़ैयाबाद से गिरफ्त में आए नक्सली नंदन मंडल ने भागलपुर रेलवे स्टेशन की उड़ाने की साजिश रची थी। इसके अतिरिक्त नक्सलियों ने शहादत दिवस के अवसर पर रेलवे सुरंग, मुंगेर किला को उड़ाने की साजिश थी। नक्सलियों ने ड्यूटी पर तैनात आरपीएफ के जवानों को अगवा करके भी करोड़ों रुपये लेवी वसूलने की साजिश रची थी।

मुंगेर रेंज के डीआईजी ने कही ये बात

वहीं मुंगेर रेंज के डीआईजी पंकज सिन्हा ने बताया कि पुलिस के साथ अर्धसैनिक बल भी एक्टिव है। तीनों जिले मुंगेर, जमुई व लखीसराय में लगातार सर्च ऑपरेशन जारी है। नक्सलियों की किसी भी हिंसक घटना की साजिश को कामयाब नहीं होने दिया जाएगा।

और पढ़ें
Next Story