Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

5 लड़कों के बीच में घिरी थी नाबालिग लड़की, पुलिस ने ऐसे बचाई जान

बिहार पुलिस की सक्रियता से पटना में एक बड़े ही सनसनीखेज मामले का खुलासा हुआ है। यहां पर गोपालगंज जिले से एक महिला द्वारा भगाकर लाई गई एक नाबालिग लड़की चार से पांच लड़कों के बीच में घिरी हुई थी। जिसको पुलिस ने समय रहते गलत हाथों में जाने से बचा लिया।

Patna Police frees Gopalganj minor girl Search begins for woman who deals with teenager bihar crime news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Patna) में पुलिस (Police) की सक्रियता से हैरान कर देने वाली एक सनसनीखेज घटना का खुलासा हुआ है। जानकारी के अनुसार गोपालगंज जिले की निवासी एक नाबालिग लड़की (minor girl of gopalganj) को डांसर बनाने और मोटा धन कमाने का झांसा देकर उसके घर से भगाकर राजधानी पटना लाया गया। इस सनसनीखेज वारदात को सीतामढ़ी निवासी एक महिला (Sitamarhi woman) ने अंजाम दिया है। पटना में नाबालिग लड़की का सौदा (minor girl deal) तय करने के प्रयास चल रहे थे। इसी दौरान कोतवाली थाना पुलिस की सक्रियता से नाबालिग लड़की गलत हाथों में जाने से बच गई। पुलिस ने किशोरी (teenager) को आरोपियों से मुक्त कराकर पटना में रह रहे उसके रिश्तेदारों को सौंप दिया है। वहीं पुलिस नाबालिग लड़की को भगाकर लाने वाली महिला की खोज में जुट गई है।

नाबालिग लड़की के अनुसार वो बेहद गरीब परिवार से संबंध रखती है। लड़की के माता-पिता मजदूरी करते हैं। नाबालिग ने पुलिस को बताया कि जो महिला उसको गोपालगंज में उसके घर से भगाकर पटना लाई है। वो महिला सीतामढ़ी की रहने वाली है। साथ ही वह महिला किसी आर्केस्ट्रा पार्टी में डांस करती है। नाबालिग लड़की की उस महिला से गोपालगंज में जान-पहचान हुई थी। इसके बाद नाबालिग लड़की उसके झांसे में आकर महिला के साथ बस में सवार होकर पटना चली आई।

गुरुवार को लड़की पटना जंक्शन के बाहर खड़ी थी। उसे चार- पांच युवक घेरे हुए थे। उसी वक्त वहां से कोतवाली थाने की गश्ती पुलिस गुजर रही थी। कई लड़कों के बीच लड़की को घिरे देखकर पुलिस वालों को संदेह हुआ। जैसे ही पुलिस लड़की की तरफ बढ़ी आरोपी मौके से फरार हो गये।

पुलिस वालों ने किशोरी से पूछताछ की। इस पर नाबालिग लड़की ने बताया कि उसको गोपालगंज से भगाकर यहां लाया गया है। इसके बाद पुलिस कर्मी तुरंत नाबालिग लड़की को लेकर कोतवाली पहुंचे। पुलिस की ओर से तुरंत पूरे मामले की जानकारी परिजनों को दी गई। कुछ समय बाद पटना में रह रहे किशोरी के करीबी रिश्तेदार कोतवाली पहुंचे। जहां से लिखापढ़ी के बाद नाबालिग लड़की को उन्हीं परिजनों को सौंप दिया गया। मामले पर कोतवाली प्रभारी सुनील सिंह का कहना है कि फरार आरोपित महिला को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

Next Story