Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पटना एम्स का वीडियो वायरल : बेड खाली, स्टाफ कर्मी भी खाली पर मरीज को नहीं किया भर्ती, उठा सवाल क्या गरीब अमीर के साथ हो रहा भेदभाव

बिहार में कोरोना के गहराते डर के बीच पटना एम्स से एक बैहद चौंकाने वाला वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिससे सूबे में वीआईपी, आम आदमी का उपचार अलग - अलग तरीके से किये जाने की आफवाहों को बल मिलता दिखाई दे रहा है। वीडियो में दिखाया गया है कि अस्पताल में बेड खाली हैं व स्टाफ कर्मी भी खुब इधर - उधर टहलते रहे हैं। पर मरीज को भर्ती नहीं किया जा रहा है।

patna aiims bed vacant staff personnel also vacant but did not recruit patients question raised whether poor rich are being discriminated against
X
पटना एम्स का नजारा

बिहार में कोरोना वायरस दिन - प्रतिदिन गहराता जा रहा है। वहीं पटना एम्स प्रशासन ने अपने ही कर्मचारियों के परिजनों को कोरोना संक्रमित होने पर भर्ती नहीं किए जाने का निर्देश जारी किया है। अन्य लोगों को भी पटना एम्स में इलाज करवाने के लिए रोके जाने की जानकारी हैं। इन सभी बातों के बीच पटना एम्स की वायरल वीडियो ने आम आदमी, वीआईपी के उपचार में दौहरा मापदंड इस्तेमाल किए जाने की अफवाहों को और बल दिया है।

वायरल वीडियो में दिखाया जा रहा है कि पटना एम्स में बेड खाली हैं। अस्पताल में मौजूद कर्मचारी उधर-उधर घूमते - घिरते नजर आ रहे हैं। वीडियो में एक महिला समेत अन्य लोगों की भी आवाज आ रही है। वीडियो में पटना एम्स का नजारा दिखाए जाते वक्त किसी महिला की भी आवाज आ रही है। वह एम्स कर्मियों पर आरोप लगा रही है कि ये लोग खाली बैठे रहते हैं। मोबाइल चलाते रहते हैं। अस्पताल में आक्सीजन का इंतजाम है। लेकिन ये लोग मरीजों का इलाज नहीं कर रहे हैं।

महिला कोरोना मरीज को आईजीआईएमएस पटना से लेकर पटना एम्स में भर्ती कराने के लिए पहुंची है। महिला ने आईजीआईएमएस पटना से एक एम्बुलेंस में एक साथ 7 मरीजों को भी भेजे जाने का आरोप लगाया है। लेकिन यहां पर मरीजों को भर्ती नहीं किया जा है।

Next Story