Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पप्पू यादव की बेल याचिका पर हाईकोर्ट में हो सकती है सुनवाई, पत्नी रंजीता रंजन ने लगाई ये गुहार

जाप प्रमुख एंव पूर्व सांसद पप्पू यादव से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आई है। बिहार के पटना हाईकोर्ट में पूर्व सांसद पप्पू यादव से संंबंधित याचिका स्वीकार की गई है। मधेपुरा कोर्ट से निराशा हाथ लगने के बाद पत्नी रंजीता रंजन ने इसे अति-महत्वपूर्ण मामला बताते हुए पटना उच्च न्यायालय से गुहार लगाई थी।

pappu yadav can now apply for bail patna high court jailed kidnapping case bihar crime news in hindi
X

पप्पू यादव

जाप प्रमुख (Jaap chief) एवं पूर्व सांसद पप्पू यादव (Former MP Pappu Yadav) से जुड़ी उनकी पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताओं के लिए एक राहत भरी खबर सामने आई है। पप्पू यादव (Pappu Yadav) को बीते दिनों मधेपुरा सेशन कोर्ट ने 32 वर्ष पुराने अपहरण मामले (kidnapping cases) में बेल देने से इनकार कर दिया था। इसके बाद अब वो बेल लिए पटना उच्च न्यायालय (Patna High Court) में याचिका दायर कर सकते हैं। आपको बता दें पटना हाईकोर्ट में इन दिनों गर्मी की छुट्टियां चल रही हैं। वहीं इस समय पटना उच्च न्यायालय में बेल याचिका दायर करने पर रोक लगी हुई है। पर पूर्व सांसद पप्पू यादव की ओर से जमानत याचिका दायर करने के लिए पटना हाईकोर्ट से निवेदन किया गया था। इसको अति अहम केस बताते हुए न्यायालय से पप्पू यादव की पत्नी एवं पूर्व सांसद रंजीत रंजन (Ranjit Ranjan) ने जो आग्रह किया, उसे पटना हाईकोर्ट ने स्वीकार कर लिया है।

जानकारी के अनुसार इसके बाद अब जाप प्रमुख पप्पू यादव की बेल याचिका पर पटना उच्च न्यायालय में सुनवाई हो सकेगी। वहीं इससे पहले पप्पू यादव के वकीलों की ओर से कोर्ट में बेल की ई-फाइलिंग की जाएगी। आपको बता दें कि पप्पू यादव 32 वर्ष पुराने अपहरण के एक केस में इन दिनों जेल में बंद हैं। दरभंगा के डीएमसीएच में बीमार बंदी पप्पू यादव का उपचार चल रहा है। पप्पू यादव की ओर से इस केस में गिरफ्तारी के बाद पहले भी पटना हाईकोर्ट से सुनवाई का निवेदन किया गया था। पर उस वक्त पटना हाईकोर्ट ने इस मामले को अति अहम केस मानने से इनकार करते हुए सुनवाई नहीं की थी। इसके बाद पूर्व सांसद पप्पू यादव मधेपुरा की निचली अदालत में गए थे।

इन जगहों पर हाथ लगी थी निराशा

इस मामले में सबसे पहले मधेपुरा के एसीजेएम कोर्ट में पप्पू की जमानत याचिका खारिज हुई थी। फिर पप्पू यादव सेशन कोर्ट गए। सेशन कोर्ट ने भी पप्पू यादव को कई नियम शर्तों के साथ बेल देने से इंकार कर दिया था। वहीं अब पप्पू यादव की बेल अर्जी पर पटना हाईकोर्ट में सुनवाई संभव हो सकेगी। पप्पू यादव के परिजन व समर्थक इसको बड़ी सफलता के रूप में देख रहे हैं।

Next Story