Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

NMCH में ऑक्सीजन की कमी के चलते कोरोना मरीजों की सांसें अटकी, अधीक्षक ने पद छोड़ने के लिए लिख डाला पत्र

पटना में नालंदा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल 'एनएमसीएच' में ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी हो गई है। जिससे कोरोना संक्रमित दर्जनों मरीजों की जान खतरे में बनी हुई है। डॉक्टर विनोद कुमार ने अपने पत्र के जरिये स्वास्थ्य विभाग को इस बात से अवगत कराया है।

oxygen cylinders Shortage threatens life of corona patients Nalanda Medical College and Hospital Superintendent Dr Vinod Kumar Singh wrote letter
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) में लगातार कोरोना संक्रमितों (Corona infected) की संख्या लगातार बढ़ रही है। अस्पतालों पर भारी दवाब है। वहीं खबर आ रही है कि पटना (Patna) में नालंदा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल 'Nalanda Medical College and Hospital' (एनएमसीएच) में ऑक्सीजन सिलेंडर 'Oxygen cylinder' की कमी हो गई है। जिसके चलते एनएमसीएच (NMCH) के कोरोना वार्ड में भर्ती मरीजों के बीच हड़कंप मच गया है।

जानकारी के अनुसार बीती शाम को एनएमसीएच भवन में ऑक्सीजन की कमी के सवाल पर मरीजों ने थोड़ी देर के लिए हंगामा भी किया। वहीं अस्पताल के अधीक्षक डॉ. विनोद कुमार सिंह ने पत्र लिखकर विभागीय प्रधान सचिव को आक्सीजन की समस्या से अवज्ञत करा दिया है। साथ ही अस्पताल के अधीक्षक डॉ. विनोद कुमार सिंह (Dr. Vinod Kumar Singh) ने विभागीय प्रधान सचिव को पत्र लिखकर अधीक्षक पद से मुक्त करने की बात कही है।

अधीक्षक अधिकारियों के हस्तक्षेप से नाराज हैं और उनका कहना है कि एनएमसीएच के ऑक्सीजन स्टॉक को दूसरी जगहों को भेजा जा रहा है। इस वजह से एनएमसीएच में ऑक्सीजन की कमी होने लगी है। जिससे कभी भी संकट गहरा सकता है। इन हालातों में सारी जवाबदेही उनके ऊपर आ जाएगी। एनएमसीएच में दो दिनों से ऑक्सीजन की कमी होने लगी है। अधीक्षक का कहना है कि कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है और एनएमसीएच अस्पताल में संक्रमित मरीजों के आने का सिलसिला जारी है।

एनएमसीएच में भर्ती मरीजों की संख्या को देखते हुए 400 से 450 ऑक्सीजन सिलेंडर की जरूरत है। वहीं ऑक्सीजन सिलेंडर की आपूर्ति सिर्फ एक चौथाई ही हो पा रही है। इन स्थितियों के बीच कोरोना मरीजों को बेहतर इलाज उपलब्ध कराने में डॉक्टरों को काफी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। मरीज के अनुपात में ऑक्सीजन सिलेंडर की आपूर्ति नहीं हो रही है। इस लिए ये परेशानी सामने खड़ी हुई है।

100 ऑक्सीजन सिलेंडर भेजे गए यहां

आपको बता दें बीते दिनों पटना में संचालित प्राइवेट अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी खड़ी हो गई थी। प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने शनिवार को इस संबंध में आसपास के कई जिलों के डीएम से बात की और अतिरिक्त ऑक्सीजन सिलेंडरों को पटना में सप्लाई करने को कहा। आयुक्त के निर्देश के बाद नालंदा से 100 ऑक्सीजन सिलेंडर शनिवार को पटना के लिए सप्लाई किए गए।

अन्य जिलों से भी मांगे गए थे ऑक्सीजन सिलेंडर

आयुक्त ने यह भी कहा कि नालंदा, वैशाली और मुजफ्फरपुर के जिला अधिकारियों से कहा कि यदि उनके जिले में ऑक्सीजन सिलेंडर अधिशेष है। तो वो भी पटना को सप्लाई कर सकते हैं। आयुक्त ने पटना प्रमंडल के अन्य जिले जैसे कैमूर, रोहतास, बक्सर और भोजपुर के डीएम को भी निर्देश दिया है कि यदि उनके यहां अधिशेष ऑक्सीजन सिलेंडर है तो वो भी एजेंसियों को निर्देश देकर पटना के लिए सप्लाई करवाएं। आयुक्त ने शनिवार को प्रमंडल के सभी डीएम के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कहा कि सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में 24 घंटे ऑक्सीजन की सप्लाई सुनिश्चित कराएं। साथ आयुक्त ने उत्पादन इकाई में मजिस्ट्रेट तैनात करने और वितरण की निगरानी का निर्देश दिया है।

Next Story