Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रघुवंश इस्तीफा मामला : नंद किशोर यादव बोले - लालू यादव कब तक मरहम लगायें, खुद उनके लाल ही सर्जरी करने में जुटे

भाजपा नेता नंद किशोर यादव ने राजद से रघुवंश प्रसाद सिंह के इस्तीफा दिये जाने के मामले पर तंज कसा है। नंद किशोर यादव ने इशारों-इशारों में कहा कि लालू यादव कहां-कहां मरहम लगायेंगे। उनके लाल तो खुद ही पार्टी की सर्जरी करने पर तुले हुये हैं।

on raghuvansh prasad singh resignation case nand kishore yadav said how long lalu yadav should apply ointment
X
रघुवंश प्रसाद सिंह के इस्तीफा मामल पर नंद किशोर यादव ने लालू यादव पर कसा तंज।

बिहार में विधानसभा के चुनावों की तैयारियों में जुटे दल एक-दूसरे को घेरने का कोई भी मौका नहीं छोड़ रहे हैं। इसी कड़ी में बिहार के पथ निर्माण मंत्री एवं भाजपा नेता नंद किशोर यादव ने विपक्षी पार्टी राजद पर इशारों-इशारों में तंज कसा है। नंद किशोर यादव ने कहा कि जब किसी के शरीर में बार-बार फोड़े निकलने शुरू हो जायें। तो तुरंत समझ लेना चाहिए कि यह सब कुछ किसी बड़ी आंतरिक गड़बड़ी की वजह से हो रहा है। नंद किशोर यादव ने राजद को छोड़कर जा रहे नेताओं को लेकर कहा कि यह अब मरहम लगाने से ठीक नहीं होने वाला है। उन्होंने लालू यादव का नाम लिये बगैर कहा कि बिहार में विपक्षी दल के एक बुजुर्ग नेता कहां-कहां मरहम लगाएंगे। उन्होंने कहा कि लालू यादव पार्टी में मरहम लगाते हैं। साथ ही उनके लाल राजद की सर्जरी कर देते हैं।



नंद किशोर यादव ने कहा कि राजद की यह बीमारी अब सर्जरी से दूर नहीं होने वाली है। वहीं उन्होंने कहा कि राजद की यह बीमारी लालू यादव द्वारा मरहम लगाये जाने से भी ठीक नहीं होगी। नंद किशोर यादव ने कहा कि इसके लिये आत्मशुद्धि की जरूरत है। याद रहे कल राजद से लालू यादव के करीबी नेता माने जाने वाले रघुवंश प्रसाद सिंह ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। जिसके बाद लालू यादव ने उनको मनाने की कोशिश में पत्र लिखा है। जिस पर बिहार की सियासत में लगातार बयानबाजी हो रही है।

पथ निर्माण मंत्री एवं भाजपा नेता नंद किशोर यादव ने अन्य ट्वीट के माध्यम से बिहार सरकार द्वारा शिक्षा को लेकर किये जा रहे सुधारों के बारे में जानकारी दी गई है। उन्होंने कहा कि बिहार सरकार शैक्षणिक संस्थाओं में गुणवत्तापूर्ण सुधार के लिये योजनाबद्ध तरीके से कार्य कर रही है। उन्होंने बताया कि बिहार सरकार ने राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेजों के कई विभागों में सहायक प्रोफेसर की नई नियुक्तियां करने का निर्णय लिया है। वहीं मंत्रीं ने कहा कि राज्य सरकार बिहार की शिक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए सदैव संकल्पित हैं।

Next Story