Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस : नीतीश कुमार बोले - बिहार में महिला साक्षरता में हुई 18 प्रतिशत की वृद्धि

सीएम नीतीश कुमार ने अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस के मौके पर बिहार में पुरुष साक्षारता दर में 11व महिला साक्षरता दर में 18 प्रतिशत की दशकीय वृद्धि होने की बात कही है। साथ ही सीएम ने सभी शिक्षित लोगों से निरक्षर महिला व पुरुषों को साक्षर बनाने में सहयोग मंगा है।

nitish kumar said that there was a decadal increase of 18 percent in female literacy in bihar
X
सीएम नीतीश कुमार

बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने मंगलवार को कहा कि इस वर्ष आठ सितंबर को अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस का हम 54 वां साल मना रहे हैं। सीएम ने बताया कि इस दिवस पर पूरी दुनिया के लोग समाज से निरक्षरता उन्मूलन के अपने संकल्प को दोहराते हैं। सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि साक्षरता एवं शिक्षा मनुष्य के समावेशी विकास का एक अत्यन्त महत्वपूर्ण अवयव है। उन्होंने कहा कि पिछले वर्षों में राज्य सरकार द्वारा बिहार में व्यस्क निरक्षर महिलाओं एवं पुरूषों को साक्षर बनाने के लिये प्रयास किये गये हैं। जिसके परिणाम स्वरूप सन 2011 की जनगणना के अनुसार बिहार में पुरुष साक्षारता दर में 11 प्रतिशत और महिलाओं की साक्षरता दर में 18 फीसदी की दशकीय वृद्धि दर्ज हुई है।

बिहार में निरक्षरता के उन्मूलन के लिये ठोस प्रयास किये जा रहे हैं: सीएम

सीएम नीतीश कुमार ने बताया कि वर्तमान में राज्य के वांछित वर्ग के शैक्षणिक उत्थान और सशक्तिकरण हेतु महादलिल, दलित एवं अल्पसंख्ख्यक अति पिछड़ा वर्ग अक्षर आंचल योजना बिहार सरकार द्वारा संचालित की जा रही है। नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य संपोषित इस विशेष योजना के संचालन से समाज के कमजोर वर्गों में शैक्षिक प्रगित हुई। सीएम ने कहा कि राज्य सरकार के द्वारा बिहार से निरक्षरता के उन्मूलन के लिये ठोस प्रयास किये जा रहे हैं। इस पुनीत कार्य में समाज के सभी वर्गों की भागीदारी अपेक्षित है। सीएम नीतीश कुमार ने अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस' के अवसर पर राज्य के सभी वर्गों, लेखकों, बुद्धिजीवियों, मीडिया कर्मियों और शिक्षत लोगों से अपील है कि वे बिहार के व्यस्क निर्रक्षर महिला और पुरुषों को साक्षर बनाने में अपना योगदान दें।

Next Story