Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus: बिहार के इन 15 जिलों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने जा रहा एनएचएआई, डीआरडीओ करेगा मोनिटरिंग

Coronavirus: बिहार में कोरोना संक्रमण के बीच ऑक्सीजन की भारी कमी व्याप्त है। मरीजों की इन्हीं समस्याओं को देखते हुए एनएचएआई (NHAI) मदद करने जा रहा है। एनएचएआई पटना समेत बिहार के 15 जिलों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने की तैयारी में हैं।

nhai will help in oxygen shortage issue oxygen plant will be set up in 15 districts Bihar Coronavirus latest update
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

कोरोना महामारी (Corona epidemic) के बीच बिहार (Bihar) में ऑक्सीजन की कमी (Oxygen shortage) की वजह से मरीज काफी परेशान हैं। प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए बिहार सरकार (Bihar Government) के साथ केंद्र सरकार (central government) भी जुटी हुई है। वहीं जानकारी मिल रही है कि बिहार में ऑक्सीजन (Oxygen Crisis) की कमी को दूर करने के लिए एनएचएआई (NHAI) 15 जिलों में ऑक्सीजन प्लांट (Oxygen plant) लगाने की तैयारी कर रहा है।

कोरोना संकट के इस दौर में पूरे देश में जिस चीज को ज्यादा झेला है। वो है ऑक्सीजन की कमी। इस ऑक्सीजन की कमी को बिहार ने भी जमकर झेला है। बिहार में कोरोना महामारी के बीच ऑक्सीजन के वजह से कुछ मरीजों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। लेकिन अब बिहार में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने का काम भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) करने जा रहा है। दरअसल, एनएचएआई बिहार के पटना समेत 15 जिलों में मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट लगाने का फैसला किया है। बहुत जल्द इन ऑक्सीजन प्लांट पर काम शुरू हो जाएगा। आपको बदा दें एनएचएआई द्वारा लगाया जाने वाला एक ऑक्सीजन प्लांट की न्यूनतम क्षमता 960 लीटर प्रति मिनट होगी।

एनएचएआई द्वारा बनाए जाने वाले इन ऑक्सीजन प्लांट में वातावरण से सीधे ऑक्सीजन लेकर पीएसए टेक्नोलॉजी के माध्यम से ऑक्सीजन तैयार किया जाएगा। एनएचएआई के अखिल भारतीय कार्यक्रम के तहत बिहार में 15 मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं। याद रहे पीएम केयर्स फंड से भी बिहार में 15 जगहों पर ऑक्‍सीजन प्‍लांट लगाए जाने हैं। इसके अलावा राज्‍य सरकार भी प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेजों में ऑक्‍सीजन प्‍लांट लगाने की तैयारी में है। यदि सब कुछ सही रहा तो राज्‍य के हर जिले में कम से कम एक ऑक्‍सीजन प्‍लांट तो जरूर ही लगेगा।

जल्द होगी इन ऑक्‍सीजन प्‍लांट की संरचना होगी तैयार

दूसरी एनएचएआई के क्षेत्रीय अधिकारी चंदन वत्स ने इस बारे में बताया कि अगले 7 दिनों के अंदर एनएचएआई को मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट की आधारभूत संरचना तैयार कर देनी है। इसके बाद संयंत्र स्थापित किए जाने का काम एलएंटी और टाटा द्वारा किया जाएगा। योजना के तहत पाइपलाइन के माध्यम से अस्पताल तक मेडिकल ऑक्सीजन पहुंचा दिया जाएगा।

मंगल पाण्डेय ने भी इस संबंध में दी जानकारी

ऑक्‍सीजन प्‍लांट के संबंध में ट्वीट कर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय की ओर से भी जानकारी दी गई है। मंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा कि भारत के सरकार द्वारा राज्य के 15 जगहों में ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट लगाने की प्रक्रिया शुरू की जा रही है। इसकी मोनिटरिंग रक्षा मंत्रालय के डीआरडीओ द्वारा की जायेगी और सिविल और विद्युत संबंधी कार्य राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिककरण के द्वारा कराया जायेगा।

जानें कहां-कहां लगेंगे ये ऑक्सीजन प्लांट

1. पटौरी (समस्तीपुर)

2. बनमनखी (पूर्णिया)

3.फारबिसगंज (अररिया)

4. सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा)

5. बलिया (बेगूसराय)

6. कहलगांव (भागलपुर)

7. डेहरी ओनसोन (रोहतास)

8. महुआ (वैशाली)

9. रजौली (नवादा)

10. नरकटियागंज (पूर्वी चंपारण)

11. महाराजगंज (सिवान)

12. जयनगर (मधुबनी)

13. जगदीशपुर (भोजपुर)

14. डुमरांव (बक्सर)

15. मसौढ़ी (पटना)

Next Story