Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मालिक ने पालतू कुत्ते को दयनीय अवस्था में सड़क पर छोड़ा, मेनका गांधी के दखल से हुई कड़ी कार्रवाई

बिहार के मुजफ्फरपुर में एक कुत्ते की उपेक्षा करने पर उसके मालिक की परेशानियां बढ़ गई हैं। क्योंकि कुत्ते मालिक के खिलाफ पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के हस्तक्षेप के बाद एफआईआर दर्ज हो गई है। बताया जहा रहा है कि कुत्ता मालिक घर छोड़कर फरार है।

muzaffarpur master attacked brutally on his dog in muzaffarpur fir lodged bihar crime news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) से एक बड़ी खबर सामने आई है। यह पूरा मामला एक पालतू कुत्ते (pet dog) पर उसके मालिक द्वारा किए गए अत्याचार से जुड़ा हुआ है। जोकि अब कुत्ते के स्वामी (dog owner) को उसकी उपेक्षा करनी महंगी पड़ गई है। जानकारी के अनुसार मुजफ्फरपुर के मिठनपुरा थाने में उस कुत्ता मालिक के खिलाफ पशु क्रुरता निवारण अधिनियम की धाराओं में एफआईआर (FIR on dog owner) दर्ज कर ली गई है। मामला दर्ज हो जाने के बाद कुत्ते के स्वामी भागे-भागे फिर रहे हैं। यह पूरा केस मिठनपुरा थाना के मालीघाट मुहल्ले से जुड़ा हुआ है।

बताया जा रहा है कि मिठनपुरा थाना क्षेत्र के मालीघाट के रहने वाले राजकुमार ने अपने घर में एक कुत्ते को पाल रखा था। कुछ दिनों पूर्व मालिक राजकुमार ने किसी गलती पर पालतू कुत्ते टफी पर ऐसा हमला किया कि उसकी एक आंख बर्बाद हो गई। शरीर पर कई जगह जख्म हो जाने की वजह से कुत्ते टफी के शरीर में कीड़े पड़ गए। इस पर इलाज कराने की बजाय स्वामी राजकुमार नें कुत्ते टफी को घर के बाहर सड़क किनारे डाल दिया। कीड़ा लग जाने की वजह से तड़पते हुए कुत्ते टफी पर एक एनिमल एक्टिविस्ट शिवानी की निगाह पड़ गई। शिवानी मालिक राजकुमार से कुत्ते को घर में ले जाकर उसका इलाज कराने का निवेदन किया। लेकिन राजकुमार ने यह सब करने से इनकार कर दिया।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इसके बाद शिवानी ने इस बात की सूचना पीपुल फॉर एनिमल संस्था के तहत कार्य करने वाले संगठन बेजुबानों की आवाज के कार्यकर्ता सुमंत शेखर को दी। इसपर सुमंत शेखर तुरंत राजकुमार के घर पर पहुंचे। सुमंत शेखर ने भी राजकुमार से कुत्ते का इलाज कराने का आग्रह किया। पहले तो इस पर राजकुमार ने सुमंत शेखर से बहस की व बाद में उनको फटकार कर वहां से भगा दिया। सुमंत शेखर कुत्ते टफी को वहां से उठाकर ले आए और उसका इलाज शुरू करवाया। इस बीच सुमंत शेखर ने बेजुबान पर क्रूरता की शिकायत मिठनपुरा थाने में कर दी। इसके बाद मिठनपुरा थाना पुलिस ने राजकुमार के खिलाफ कुत्ते के खिलाफ अत्याचार करने के आरोप में मामला दर्ज कर लिया।

सुमंत शेखर कहते हैं कि ये मुहिम इतनी आसान नहीं थी। शुरू में इस मामले की शिकायत को थाना में सुनने वाला कोई नहीं था। मामले को लेकर सुमंत शेखर ने पीपुल फॉर एनिमल की प्रमुख पूर्व केन्द्रीय मंत्री मेनका गांधी को मेल के माध्यम से शिकायत दी, उसके बाद मेनका गाधी के हस्तक्षेप के बाद मिठनपुरा पुलिस थाने में मामला दर्ज हुआ। मामले पर मिठनपुरा थाना अध्यक्ष भगीरथ प्रसाद ने कहा कि कांड दर्ज करके मामले में उचित कार्रवाई की जा रही है। मामला दर्ज होने के बाद से आरोपी कुत्ता मालिक राजकुमार फरार है।

Next Story