Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

थावे मंदिर की सुरक्षा में तैनात बीएमपी जवान की हत्या, पूरे मामले की तफ्तीश में जुटी पुलिस

बिहार के गोपालगंज जिले से एक सनसनखेज वारदात सामने आई है। यहां बदमाशों ने बीएमपी जवान की हत्या कर दी है। यह जवान थावे मंदिर की सुरक्षा में तैनात था। मौके पर पहुंची पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश में जुट गई है।

Murder of BMP jawan guarding Gopalganj Thawe temple bihar crime news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) में बदमाशों के इस कदर बुलंद हैं कि आम जनता को तो छोड़ दें, अब पुलिस-प्रशासन से संबंधित लोगों की जान पर भी खतरा मंडराने लगा है। ऐसा ही एक मामला गोपालगंज (Gopalganj) जिले से सामने आया है। जहां बेखौफ बदमाशों ने सुप्रसिद्ध थावे मंदिर की सुरक्षा में तैनात बीएमपी जवान की हत्या (murder of bmp jawan) कर दी है। हत्याकांड के बाद से ही पूरे इलाके में हड़कंप व्याप्त है।

गोपालगंज जिले के थावे दुर्गा मंदिर की सुरक्षा में तैनात बीएमपी जवान की हत्या वारदात को अंजाम देने के बदमाशों ने उसकी लाश को होमगार्ड मैदान के पीछे ले जाकर फेंक दिया गया। जवान की गर्दन, पीठ और सिर चाकू से हमला किए जाने के निशान मिले हैं। लाश को देखने से ऐसा अहसास होता है कि निर्ममता से जवान की हत्या की गई है। मृतक जवान को अर्जुन थापा के रूप में पहचाना गया है। अर्जुन थापा मूल रूप से नेपाल निवासी थे।

थावे पुलिस के मुताबिक जवान अर्जुन थापा मंगलवार की रात में करीब साढ़े नौ बजे अकेला अपने रूम से निकला था। इसके बाद बुधवार की सुबह में दुर्गा मंदिर परिसर के पास स्थित होमगार्ड ऑफिस के पीछे चितुटोला जाने वाली सड़क के किनारे अर्जुन थापा की लाश पड़ी मिली। बीएमपी जवान की हत्‍या का समाचार बहुत जल्दी पूरे क्षेत्र में फैल गया।

मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। जहां से पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए गोपालगंज सदर अस्पताल भिजवा दिया। वहीं हत्या मामले की जांच-पड़ताल में पुलिस जुट गई है। मामले पर एसडीपीओ नरेश पासवान का कहना है कि हत्या के पीछे के कारणों और वारदात को अंजाम देने वालों के बारे में पता नहीं चल सका है।

और पढ़ें
Next Story