Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दोस्त को बंधक बनाकर बदमाशों ने बैंक से लौट रही नाबालिग के साथ किया गैंगरेप, वारदात की वीडियो भी बनाई

बिहार के समस्तीपुर जिले से हैवानित का मामला सामने आया है। यहां बदमाशों ने बैंक से लौट रही नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म कर दिया। फिलहाल पीड़िता अस्पताल में भर्ती है और जो बयान देने की हालत में नहीं हैं। पुलिस ने मामले को लेकर चार लड़कों को हिरासत में ले लिया है।

पिता ने बेटी को दिखाया पॉर्न, 28 लोगों ने किया रेप, सपा-बसपा के बड़े नेताओं का नाम आये सामने
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) के समस्तीपुर (Samastipur) जिले में विभूतिपुर थाना इलाके स्थित एक गांव की नाबालिग लड़की के साथ हैवानियत की वारदात को अंजाम दिये जाने का मामला सामने आया है। यहीं की 10वीं की छात्रा के साथ कुछ बदमाशों ने शुक्रवार की रात में गैंगरेप (gang rape) कर दिया। वहीं गैंगरेप पीड़िता (gang rape victim) की स्थिति अच्छी नहीं है। इस वजह से पुलिस (Police) भी उसका बयान दर्ज नहीं कर सकी है। जानकारी के अनुसार वैसे पुलिस ने पूछताछ के लिए चार लड़कों को हिरासत में लिया है। पुलिस द्वारा हिरासत में लिये गये लड़कों में से एक नाबालिग लड़की का कथित दोस्त भी शामिल है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शुक्रवार को दिन में नाबालिग अपने घर से यह कहकर निकली थी कि वह बैंक जा रही है। इसके बाद रात में नाबालिग गांव के ही कथित अपने दोस्त के साथ रोसड़ा से एक साइकिल द्वारा घर लौट रह्री थी। इस बीच दोनों को सिंघियाघाट पुल के पास सुनसान जगह पर पहले से घात लगाए बदमाशों ने उन्हें घेर लिया। दोनों को बदमाश गाछी में ले गए। जहां उन्होंने जाकर कथित प्रेमी को बांधक बना लिया और नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप (gang rape with minor girl) कर दिया।

इस दौरान बदमाशों ने रेप की वारदात की वीडियो भी बनाई। साथ आरोपी लड़कों ने मामले की सूचना पुलिस को देने पर वीडियो वायरल करने की धमकी भी दी। बदमाश लड़के जब वहां से फरार हो गए तो बंधक बने युवक ने किसी तरह खुद को मुक्त किया और साइकिल से पीड़ित को रात में ही विभूतिपुर थाने लेकर पहुंचा। जहां मामले की जानकारी पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस ने मामले में एक्शन लेते हुए भिन्न भिन्न के तीन लड़कों को हिरासत में ले लिया है। साथ ही तीनों लड़कों से पूछताछ की जा रही है।

मामले पर थाना अध्यक्ष राजीवलाल पंडित ने कहा कि पीड़ित नाबालिग लड़की को महिला पुलिस बल के सरंक्षण में समस्तीपुर महिला थाना भेजा गया। जहां से पीड़िता को मेडिकल व उपचार के लिए भेजा गया। महिला थाना पुलिस भी मामले की तफ्तीश में जुट गई है।

महिला थाना अध्यक्ष ने विभूतिपुर थाने पहुंचकर हिरासत में लिये गये सभी आरोपियों से पूछताछ भी की। वहीं मामले पर डीएसपी एस अख्तर का कहना है कि जब तक पीड़ित नाबालिग लड़की का बयान नहीं आता, उस वक्त तक मामले में कुछ नहीं कहा जा सकता है। वैसे हिरासत में लिये गए तीनों आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

Next Story