Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नाबालिग लड़कियों से देह व्यापार कराने के मामले का पर्दाफाश, पुलिस के पहुंचने से पहले मार डाली एक बच्ची

बिहार के रोहतास जिले में नाबालिग लड़कियों से देह व्यापार कराए जाने के मामले का पर्दाफाश हुआ है। जब मौके पर पुलिस रेस्‍क्‍यू करने पहुंची तो उससे पहले की एक नाबालिग लड़की की हत्या कर दी गई। पुलिस ने मौके से नौ लड़कियों को मुक्त कराया है।

minor girls used to do prostitution on name of orchestra one murdered before police reached Bikramganj in Rohtas bihar crime news
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) के रोहतास (Rohtas) जिले के बिक्रमगंज के धनगाई (Dhangai of Bikramganj) से दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई है। यहां आर्केस्ट्रा की आड़ में नाबालिग लड़कियों से देह व्यापार (sex trade with minor girls) कराए जाने का केस सामने आया है। ये नाबालिग लड़कियां एक कमरे में बंद करके रखी गई थीं। इनमें एक 14 वर्षीय लड़की किसी तरह भाग निकली और एक संस्था के सहयोग से राजधानी पटना (Patna) पहुंच गई। यहां नाबालिग लड़की को बाल कल्याण समिति के सामने पेश किया गया। किशोरी के बयान सुनने के बाद बाल कल्याण समिति की ओर से पटना एसएसपी को पत्र लिखा गया। जिसमें समिति ने मामले में प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया।

कमजोर वर्ग के एडीजी अनिल यादव ने तुरंत मामले की गंभीरता को समझा, तुरंत एक रेस्क्यू टीम गठित की और रोहतास भेज दिया। पटना से जब तक पुलिस रोहतास में मौके पर पहुंच सकी। तबतक अपराधियों ने नाबालिग लड़की की छोटी बहन 12 वर्षीय बच्ची की हत्या कर दी। रेस्क्यू टीम ने यहां से नौ लड़कियों को बरामद किया। जिनमें से छह लड़कियां नाबालिग पाई गईं। मुक्त कराई गईं लड़कियां रोहतास मुजफ्फरपुर और रक्सौल जिले की रहने वाली हैं। इन लड़कियों को फिलहाल आश्रय गृह में रखा गया है।

रेस्क्यू करने पहुंची पुलिस टीम को देखते ही घटनास्थल पर सभी भागने लगे। इस दौरान रेस्क्यू टीम के पुलिसकर्मियों ने महिला दलाल रेखा देवी के साथ गोपाल नट, शंकर नट, विकास और सोनू को भी अरेस्ट कर लिया। रेस्क्यू टीम ने रोहतास जिले के विक्रमगंज थाने में हत्या, पॉक्सो, मानव तस्करी के साथ अपहरण की धाराओं में मामला दर्ज कराया है।

मामले पर कमजोर वर्ग की एसपी बीना कुमारी ने कहा कि बीती 19 जुलाई को पटना बाल कल्याण समिति से जानकारी दी गई कि रोहतास में रेखा देवी नामक महिला आर्केस्ट्रा की आड़ में नाबालिग लड़कियों से देह व्यापार का धंधा कराती है। इसके बाद 19 जुलाई की पूरी रात पुलिस का छापेमारी अभियान जारी रहा। मामले को लेकर रेस्क्यू टीम गठित की गई। जिसने इस दलदल से कई लड़कियों को मुक्त कराया। वहीं बीना कुमारी ने बताया कि फरार अन्य आरोपियों को दबोचने के लिए पुलिस (Police) का छापेमारी अभियान जारी है।

Next Story