Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Humanity: घर में सो रही नाबालिग बच्ची को उठा ले गए बदमाश और सुनसान जगह पर किया गैंगरेप

Humanity: बिहार के मोतिहारी जिले के हरसिद्धि थाना क्षेत्र से हैवानियत की खबर सामने आई है। यहां एक गांव की 13 वर्षीय बच्ची के साथ अपहरण के बाद गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया। पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिफ्तार कर लिया है।

Humanity: घर में सो रही नाबालिग बच्ची को उठा ले गए बदमाश और सुनसान जगह पर किया गैंगरेप
X

प्रतीकात्मक तस्वीर।

Humanity: बिहार (Bihar) में महिलाओं के खिलाफ लगातार अपराध की वारदातें (Crime) बढ़ रही हैं। ताजा मामला मोतिहारी (Motihari) जिले के हरसिद्धि थाना (Harsiddhi Police Station) क्षेत्र स्थित एक गांव से सामने आया है। शनिवार की रात को एक 13 वर्षीय नाबालिग बच्ची (13 year old minor girl) अपने घर में सो रही थी। इस दौरान शिवचंद शाह (Shivchand Shah) और सुकेश यादव (Sukesh Yadav) नाम के दो युवक नाबालिग लड़की (Minor girl) के घर में घुस गए। जो सोती हुई बच्ची के पैर खींचने लगे। जिसपर बच्ची की चीख निकल गई। लेकिन आरोपियों ने तुरंत बच्ची का मुंह दबा लिया और बच्ची को वो उसके घर से बाहर ले आए। इसके बाद वो बच्ची का अपहरण कर मोटरसाकिल पर बैठाकर अरेराज ले गए। जहां बदमाशों ने बच्ची को एक सुनसान कमरे में ले जाकर बंद कर दिया।

बच्ची की शिकायत के अनुसार उस कमरे के पास पहले से ही अफरोज आलम बैठा हुआ था। जो तुरंत कमरे में घुसा और नाबालिग बच्ची को अपनी हवस का शिकार (Rape victim) बना दिया। इस दौरान अन्य दो आरोपी शिवचंद शाह और सुकेश यादव कमरे के बहार गेट पर खड़े हुए थे। वारदात को अंजाम देने के बाद वो रविवार की भोर में करीब तीन बजे बदहवास बच्ची को उसके गांव के बाहर छोड़कर फरार हो गए। उसके बाद किसी तरह पीड़ित बच्ची अपने घर पहुंची। इसके बाद बच्ची ने अपने परिजनों को पूरी वारदात के बारे में बताया।

हरसिद्धि थाना अध्यक्ष शैलेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि गैंगरेप के संबंध में शिकायत मिली है। जिसके बाद प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। शैलेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि छापेमारी कर तीनों अभियुक्तों सुकेश यादव, शिवचंद साह व अफरोज आलम को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस पूछताछ के बाद तीनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। वहीं नाबालिग पीड़ित बच्ची को मेडिकल जांच के लिए मोतिहारी जिला अस्पताल भेजा गया है।

Next Story