Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुर्खियों में आए तेजप्रताप यादव, माइक हाथ में लेकर अस्पताल अधीक्षक बोले- भवन से बाहर निकल जाएं

लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव एक बार फिर से चर्चाओं में आ गए हैं। क्योंकि तेजप्रताप मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच का दौरा करने के लिए पहुंचे हुए थे। जहां पर उनके समर्थकों की भीड़ उमड़ पड़ी। यह अस्पताल कर्मियों के हाथ-पांव फूल गए।

lalu prasad yadav son tej pratap in limelight hospital superintendent said get out of building of muzaffarpur SKMCH bihar news in hindi
X

तेज प्रताप यादव

बिहार (Bihar) में मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच (SKMCH of Muzaffarpur) से तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आई है। जिसकी चारों ओर चर्चा हो रही है। वैसे तो राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव (RJD chief Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव अक्सर अपनी हरकतों को लेकर सुर्खियों में रहते हैं। अव वो एक बार फिर से चर्चा में आ गए हैं। क्योंकि तेज प्रताप यादव इन दिनों बिहार के अलग-अलग जिलों में जाकर अस्पतालों की व्यवस्थाएं देख रहे हैं। साथ ही वो राज्य सरकार की कमियों को उजागर कर रहे हैं। हालांकि कभी-कभार ऐसा वाक्या भी घट जाता है जो सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन जाता है। अब मामला मुजफ्फरपुर के श्रीकृष्‍ण सिंह मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (SKMCH) से जुड़ा है।

जानकारी के अनुसार तेजप्रताप यादव बुधवार को मुजफ्फरपुर में एसकेएमसीएच का निरीक्षण करने गए थे। इस दौरान SKMCH में उनके समर्थकों की भीड़ उमड़ पड़ी। एक तो कोरोना वायरस का खतरा, दूसरा उसी अस्पताल में कोविड वार्ड का होना ही बड़ा खतरा है। इन स्थितियों में भारी संख्या में लोगों का एक साथ आ जाने से अस्पताल के कर्मियों में हड़कंप मच गया। ऐसे में अस्पताल कर्मचारी तमाम लोगों से बाहर जाने की अपील करते रहे, पर किसी पर कोई असर नहीं हुआ। अस्पाल कर्मियों की अपील की नजरअंदाज करते हुए तेज प्रताप यादव के समर्थक अस्पताल के भीतर ही डटे रहे।

जब भीड़ बढ़ती ही जा रही थी व स्थिति को बेकाबू होती दिख रही थी तो अस्पताल अधीक्षक खुद अपने कक्ष से बाहर आए व उन्होंने राजद समर्थकों को कोरोना गाइडलाइन व मरीजों के जीवन का हवाला देते हुए अस्पताल के भवन से बाहर निकल जाने का निवेदन किया। राजद समर्थकों पर अधीक्षक की इस अपील का भी असर नहीं हुआ। इसके बाद तो उन्होंने स्वयं माइक हाथ में संभाला और कहा कि Go Outside from the Building। उस वक्त तक तेज प्रताप यादव अस्पताल के अंदर प्रवेश कर चुके थे। साथ ही वो अस्पताल में भर्ती मरीजों से उनके इलाज के बारे में जानकारी प्राप्त कर रहे थे।

वैसे इस पर अस्पताल अधीक्षक ने कहा कि उनको सिर्फ तेज प्रताप यादव के आने की सूचना दी गई थी। इसके लिए कोई अनुमति नहीं ली गई थी। अस्पताल में भीड़ का इस तरह से आना गलत है। इसलिए लोगों से मैंने बाहर जाने का निवेदन किया था। इसकी शिकायत करने के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि उनको इस विषय में कोई जानकारी नहीं है।

Next Story