Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिहार : सिरफिरे ने कर डाली युवती की मां की हत्या

बिहार के खगड़िया जिले में सोमवार को सिरफिरे आशिक ने लड़की की शादी के दो साल बाद उसकी मां की हत्या कर दी। आरोपी युवती की शादी दूसरी जगह कराए जाने को लेकर बैर मानता था। वहीं घटना से नाराज लोगों ने हत्यारोपी अमित को पुलिस हिरासत से छीन कर पीट-पीटकर अधमरा कर दिया।

Lucknow Double Murder: रेलवे अधिकारी की बेटी ने ही कर दी मां और भाई की हत्या, डिप्रेशन की है शिकार
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार के खगड़िया जिले का रहने वाला 30 साल का अमित कुमार दोस्त की बहन से ही एकतरफा प्यार करने लगा था। लड़की के घरवालों को इसकी भनक लग गई तो अमित का घर आना बंद करा दिया व युवती की शादी कर दी। युवती की शादी कर देने से नाराज सिरफिरे आशिक अमित ने उसके परिवार से बदला लेने का फैसला कर दिया। दो वर्ष बाद सोमवार को उसने मौका देखकर प्रेमिका की मां की हत्या कर दी। उसने धारदार हथियार से सिर, शरीर पर हमला कर महिला को मौत के घाट उतार दिया। मृतका बेलदौर थाना क्षेत्र के पनसलवा गांव निवासी लेलहो सिंह की 50 साल की पत्नी वीणा देवी थी।

घटना खगड़िया जिले के बेलदौर थाना क्षेत्र के पनसलवा गांव की है। महिला की हत्या के बाद अमित अपने ननिहाल खगड़िया जिले के बेलदौर थाना क्षेत्र के पनसलवा गांव में छिप गया। घटना की जानकारी मिलते ही ग्रामीणों ने आरोपी को उसके ननिहाल में घेर लिया। मौके पर पहुंची पुलिस आरोपी को हिरासत में लेकर थाना ले जाने लगी तो गुस्साए ग्रामीण पुलिस पर टूट पड़े व आरोपी को पुलिस से छीन कर पीटने लगे। उसे पीट-पीट कर अधमरा कर दिया गया। इस दौरान आक्रोशित ग्रामीणों की भीड़ से आरोपी को बचाने में कई पुलिस कर्मी भी जख्मी हो गए। आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस के वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया। पुलिस आरोपी को किसी तरह भीड़ से बचाकर ले गई व उसे इलाज के लिए पीएचसी में भर्ती कराया।

ग्रामीणों ने जानकारी दी कि मृतका के बड़े बेटे दुलारचंद के साथ हत्यारोपी अमित की गहरी दोस्ती थी। दोनों का एक-दूसरे के घर आना जाना होता था। इसी बीच अमित दुलारचंद की बहन व मृतका की छोटी बेटी से एकतरफा प्रेम करने लगा। इस बात की भनक परिजनों को जैसे ही लगी अमित का घर आना बंद करा दिया गया। इसके बाद मृतका ने अपनी छोटी बेटी की शादी कर दी। इसके बाद से ही अमित बदले की आग में जलने लगा व बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में लग गया।

फसल को लगा दी थी आग

ग्रामीणों ने बताया कि अमित पिछले दो साल से पनसलवा गांव स्थित अपने ननिहाल में रहने लगा था। इस बीच उसने मृतका के खेत में लगी धान की फसल को भी बदले की भावना से फूंककर राख कर दिया था, जिसका फैसला बाद में पंचायत स्तर पर हुआ था। इसके बाद वह गांव में कम रहने लगा व कभी-कभी ही आता था।

थानाध्यक्ष शिव कुमार यादव ने बताया कि मृतका के परिजनों के बयान पर मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। पुलिस से अपराधी को छीनकर पिटाई करना भी बड़ा अपराध है। इस मामले में भी पुलिस की ओर से एक्शन लिया जाएगा।

Next Story