Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रक्षाबंधन से ठीक पहले एक ही परिवार के तीन लोगों की सड़क हादसे में मौत, परिजनों में मची चीख-पुकार

बिहार के सिवान जिले में एक भीषण सड़क दुर्घटना हो गई है। यहां रक्षाबंधन की खरीदारी कर लौट रहे एक परिवार के तीन सदस्यों को ट्रक ने कुचल दिया। जिससे तीनों लोगों की दर्दनाक मौत हो गई।

Just before Rakshabandhan three people of same family died in road accident bihar crime news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) के सिवान (Siwan) जिले में हुई सड़क दुर्घटना (road accident) में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मौत (Death of three members of same family) हो गई। हादसे में जान गंवाने वालों में एक महिला और एक बच्चा भी शामिल हैं। ये तीनों शनिवार की रात में रक्षाबंधन की खरीदारी (rakshabandhan shopping) कर अपने घर के लिए वापस लौट रहे थे। इस बीच एक बेकाबू ट्रक ने तीनों को कुचल दिया। इस कारण तीनों की दर्दनाक मौत हो गई है। यह भीषण सड़क हादसा सिवान जिले के गोरियाकोठी थाना इलाके स्थित गोरियाकोठी बाजार के पास स्थित पेट्रोल पंप के निकट हुआ। सड़क हादसे के बाद ड्राइवर ट्रक को मौके पर ही छोड़कर फरार हो गया।

सड़क हादसे में मारे गए तीनों हरपुर गांव के रहने वाले एक ही परिवार के सदस्य बताए जा रहे हैं। हादसे के बाद से ही मृतकों के परिजनों के बीच चीख पुकार मची हुई है। हादसे में गोरेयाकोठी थाना इलाके स्थित हरपुर के रहने वाले स्व. रामपुकार सिंह की पत्नी भागवती देवी, उनके बेटे हरिशंकर सिंह और गौरीशंकर सिंह के बेटे प्रियांशू कुमार सिंह की मौत हो गई है।

जानकारी के अनुसार ये तीनों एक ही बाइक पर सवार होकर रक्षाबंधन की खरीददारी करने के लिए गोरियाकोठी बाजार गए। यहां खरीददारी करने के बाद ये तीनों बाइक से ही अपने घर हरपुर वापस लौट रहे थे। इस बीच गोरेयाकोठी बाजार स्थित पेट्रोल पंप के निकट एक बेकाबू ट्रक ने इन तीनों को कुचल दिया। इस सड़क दुर्घटना में तीनों की दर्दनाक मौत हो गई।

स्थानीय लोगों सड़क हादसे की जानकारी परिजनों और पुलिस (Police) को दी। तुरंत परिजन मौके पर पहुंचे। वहीं पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शवों को अपने कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया। सभी कार्रवाई पूरी होने के बाद पुलिस की ओर से परिजनों को शव सौंप दिए गए हैं। वहीं परिजनों समेत अन्य लोगों ने आपदा राहत कोष से पीड़ित परिवार को सहायता राशि दिए जाने की मांग उठाई है। जिससे की पीड़ित परिवार अपना भरण-पोषण कर सके। राखी के त्योहार से ठीक पहले हुए इस हादसे की वजह से मृतकों के परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

Next Story