Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अब पुलिस में तैनात पति-पत्नी एक ही जिले में कर सकेंगे नौकरी, सरकार ने नई तबादला नीति में इस शर्त के साथ किया बदलाव

बिहार सरकार की ओर से नई तबादला नीति में पुलिस कर्मियों के परिवारों को राहत दी गई है। जिसके तहत पति और पत्नी दोनों भी बिहार पुलिस में कार्यरत हो। बावजूद इसके अब दंपति एक ही जिले में तैनाती ले सकेंगे।

if couple are in bihar police can get posting in one district know new provisions of transfer policy bihar latest news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार सरकार (Bihar Government) की ओर से नई तबादला नीति (police new transfer policy) में बदलाव करते हुए खास शर्त के साथ पुलिस विभाग के कर्मचारियों (police department employees) को राहत प्रदान की गई है। पुलिस विभाग (Police Department) की इस नई तबादला नीति का लाभ (यदि दंपति में ये कोई एक पुलिस में है तो) राज्य में कार्यरत अन्य सरकारी कर्मचारी भी उठा सकेंगे।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पति और पत्नी (husband and wife) में कोई एक अन्य विभाग में सरकारी नौकरी (Government Job) या फिर दोनों बिहार पुलिस (Bihar Police) में ही कार्यरत हों। बावजूद इसके दंपति (couple) को एक जिले में कार्य करने का अवसर मिल सकता है। पति-पत्नी के सरकारी सेवा में कार्यरत होने या पुलिस विभाग में नौकरी करने की स्थिति में उनके पदस्थापन को लेकर पुलिस मुख्यालय की ओर से नई नीति को हरी झंडी दे दी गई है। अब बिहार सरकार की नई तबादला नीति के मद्देनजर पुलिस विभाग में कार्यरत पति-पत्नी में कोई एक भी पुलिस में हैं तो पूरी कोशिश की जाएगी कि दंपति एक ही जिले में पदस्थापित हों। वैसे ये उस स्थिति में संभव होगा कि जब पति व पत्नी दोनों की सेवा पूरे बिहार में स्थानांतरणीय हो।

पुलिस तबादले में दंपती को लेकर नहीं था प्रावधान

जानकारी के अनुसार, पुलिस अफसरों व कर्मचारियों के ट्रांसफर को लेकर पिछले साल बिहार पुलिस की ओर से नीति बनाई गई थी। जिसके आधार पर पुलिस विभाग के अधिकारियों व कर्मियों के ट्रांसफर होते थे। जिसमें यह प्रावधान नहीं था। वहीं अब पुलिस विभाग की ओर से भी सरकारी सेवा में कार्यरत पति-पत्नी के स्थानांतरण को लेकर नीति निर्धारित कर दी है। जिसके मद्देनजर दंपति के बिहार पुलिस में कार्यरत रहने की हालत में एक ही जिला या इकाई में तैनाती के लिए उनके द्वारा संयुक्त हस्ताक्षर के साथ दिये गए आवेदन पर ही विचार होगा। उनकी इच्छा के पदस्थापन में यदि कोई एक भी पदस्थापित रहा हो, जिला या इलाके की अवधि पूरी हो चुकी है या जल्द ही पूर्ण होनी है तो उन्हें ऐस जगह पर तैनात किया जाएगा, जहां वो पूर्व में नहीं रहे हैं।

इस बात पर भी ध्यान दिया जाएगा कि जिन इकाई या प्रतिष्ठान में तैनाती पर अलग से मापदंड हैं। वहां इस आदेश के आधार पर दंपति का पदस्थापन नहीं होगा। ऐसी स्थिति में पति या पत्नी में से किसी एक को दूसरे के नजदीक वाले जिला में पदस्थापन पर विचार किया जाएगा।

नई तबादला नीति के तहत अगर पति या पत्नी पुलिस से इतर किसी दूसरी विभागीय सेवा में हैं तो स्थानांतरण के अन्य नियमों के तहत उनके मामलों में विचार होगा। लेकिन इस स्थिति में दंपति की सेवा स्थानांतरणीय होनी चाहिए। वहीं जिला व इलाके की अवधि पूर्ण होने के बाद दूसरी जगह स्थानांतरित किया जा सकता है। वहीं दंपति के कार्यस्थल पर गृह जिला या किसी जिला या इकाई में फिर से तैनाती के अनुरोध पर विचार नहीं होगा। वहीं इस नई तबादला नीति के तहत आवेदन का हित के साथ प्रशासनिक जरूरत व कार्यहित को ध्यान में रखा जाएगा।

Next Story