Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारतीय डाक सेवा लिखे वाहन से भारी मात्रा में शराब जब्त, तस्कर भी चढ़ा पुलिस के हत्थे

बिहार के औरंगाबाद जिले में शराब तस्करी से जुड़ा एक बड़ा पर्दाफाश हुआ है। भारतीय डाक सेवा के बोर्ड लगे एक वाहन से शराब की बड़ी खेप बरामद हुई है। साथ ही पुलिस ने शराब तस्कर को गिरफ्तार कर लिया है।

Huge amount of liquor seized from Indian Postal Service boarded vehicles in Bihar Aurangabad police arrested liquor smuggler
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) वैसे तो पूर्ण रूप से शराबबंदी (शराबबंदी) लागू है। फिर भी बिहार में शराब से जुड़े आए नए-नए मामले उगागर होते रहते हैं। अब शराब तस्करी से संबंधित ताजा केस बिहार के औरंगाबाद (Aurangabad) जिले से सामने आया है। यहां पर भारतीय डाक सेवा के बोर्ड लगे वाहन (Indian Postal Service boarded vehicles) से भारी मात्रा में शराब बरामद (Huge amount of liquor seized) की गई है। यह सफल कार्रवाई जिले की ओबरा थाने पुलिस (Police) ने की है। यहां पुलिस ने एक डाक पार्सल वाहन से लगभग 1961 लीटर विदेशी शराब बरामद की है। जानकारी के अनुसार शराब की यह खेफ हरियाणा से भरकर बिहार के मुजफ्फरपुर लाई जा रही थी।

ओबरा थाना अध्यक्ष पंकज कुमार सैनी का कहना है कि इस बारे में उनको एक गुप्त सूचना मिली। जिसमें बताया गया कि एक डाक पार्सल वाहन में भरकर भारी मात्रा में विदेशी शराब लाई जा रही है। तुरंत पुलिस की टीम गठित कर दी गई। साथ पुलिस टीम ने भिन्न-भिन्न स्थानों पर जांच अभियान शुरू कर दिया। जैसे ही डाक वाहन जांच स्थल पर पहुंचा। वैसे ही पुलिस टीम ने उक्त गाड़ी को रुकवा लिया। जांच करने पर उक्त वाहन के अंदर से 750 एमएलए और 180 एमएलए की 217 पेटी अंग्रेजी शराब व 16 बियर की बोतल बरामद हुईं। इस दौरान पुलिस ने दिल्ली के रानी खेड़ा के रहने वाले वाहन चालक प्रवीण डबास को अरेस्ट कर लिया।

ओबरा थाना अध्यक्ष पंकज कुमार सैनी के अनुसार उक्त वाहन से 1961 लीटर विदेशी शराब जब्त हुई है। पुलिस गिरफ्त में आए चालक ने बताया कि वह 2 दिन पूर्व हरियाणा से गाड़ी में शराब लादकर चला था। उसको यह शराब मुजफ्फरपुर में डिलीवर करनी थी। लेकिन बीच रास्ते में ही उसका वाहन खराब हो गया था। वाहन को ठीक कराने के बाद वह मुजफ्फरपुर में शराब की डिलीवरी करने जा रहा था। इस बीच वह औरंगाबाद जिले की ओबरा थाना पुलिस ने दबोच लिया।

वहीं पुलिस गिरफ्त में आए ड्राइवर ने बताया कि बिहार में कई जगहों पर डाक पार्सल के माध्यम से शराब तस्करी का खेल जारी है। सबसे हैरानी का मामला ये है कि जिस जिस पिकअप गाड़ी से शराब बरामद हुई है। उक्त गाड़ी पर भारतीय डाक सेवा लिख रखा था। पुलिस द्वारा शराब तस्करी में जब्त किया गया वाहन सरकारी है या प्राइवेट। या फिर उक्त वाहन को सरकारी वाहन का रूप दे दिया गया है। इस बारे में गहनता से तफ्तीश चल रही है। पुलिस ने मामले को लेकर प्राथमिकी दर्ज कर ली है और आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है।

Next Story