Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने की तैयारी शुरू, प्रदेश में 30 हजार स्वास्थ्य कर्मी होंगे नियुक्त: मंगल पांडेय

बिहार में कोरोना की संभावित तीसरी लहर से लड़ने के लिए तैयारियां शुरू हो गईं हैं। इसको लेकर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर विस्तृत कार्ययोजना बनाई। वहीं प्रदेश में जल्द स्वास्थ्य विभाग में 30 हजार नियुक्तियां होने जा रही हैं।

Health Minister Mangal Pandey said 30 thousand appointments in the health department in bihar Coronavirus latest update
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) में अभी से कोरोना वायरस (Corona Virus) की संभावित तीसरी लहर से लड़े जाने की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। मंगलवार को एक के बाद एक ट्वीट कर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय (Bihar Health Minister Mangal Pandey) ने तमाम जानकारियां दी। मंगल पांडेय ने बताया कि कोरोना संक्रमण (corona infection) की संभावित तीसरी लहर से लड़ने हेतु विभाग के अपरमुख्य सचिव सहित उच्चाधिकारियों के साथ बैठक कर कार्ययोजना बनाई है। विभाग द्वारा विभिन्न स्तरों पर समीक्षा कर भविष्य के लिए तैयारी की जा रही है। वर्ष 21-22 में स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगभग 30 हजार विभिन्न पदों पर नियुक्ति की जाएगी।

अन्य ट्वीट में मंगल पांडेय ने बताया कि राज्य के सभी CHC, रेफरल अस्पताल एवं PHC में 2-2 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर, सभी अनुमंडनलीय अस्पताल में 2-2 बाइपैप मशीन इस माह भेजे जाएंगे। 54 अनुमंडल एवं जिला अस्पतालों में PSA प्लांट एवं सभी मेडिकल कॉलेज सह अस्पतालों में ऑक्सीजन टैंक अगले 3 महीने में लगाने के निर्देश दिये गए है।

मंगल पांडेय ने बताया कि राज्य के मेडिकल कॉलेज अस्पतालों एवं सदर अस्पताल से प्राप्त NICU, PICU और SNCU के लिए उपकरणों की सूची की आपूर्ति का निर्देश BMSICL को दिया गया है। संभावित तीसरी लहर से बचाव हेतु अस्पतालों में ऑक्सीजन हेतु संयंत्र, उपकरण एवं ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट लगाने का निर्देश दिया गया है।

विभाग में इन पदों पर होंगी नियुक्तियां

मंगल पांडेय के ट्वीट के अनुसार बिहार में 6 हजार 338 विशेषज्ञ एवं सामान्य चिकित्सक, 3270 आयुष चिकित्सक, GNM (NHM)- 4671 एवं ANM (NHM)- 9233 की नियुक्ति 15 सितंबर 2021 तक कर लेने का निर्देश दिया गया है। अन्य विभिन्न पदों पर लगभग 7 हजार नियुक्ति की प्रक्रिया बिहार तकनीकी सेवा आयोग के माध्यम से पूरा करने का निर्देश दिया है।

और पढ़ें
Next Story