Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नरेंद्र मोदी से गुंजन पटेल का सवाल: गांव-कस्बों के छात्र कोरोना व बाढ़ के बीच परीक्षा केंद्रों तक कैसे पहुंचेंगे

बिहार युवा कांग्रेस के नेता गुंजन पटेल ने कहा कि कोरोना, लॉकडाउन व बाढ़ से बिगड़े हालातों के बीच गांव-कस्बों में रहने वाले छात्र परीक्षा केंद्रों तक कैसे पहुंच पायेंगे। गुंजन ने सवालिया अंदाज में कहा कि यह बात नरेंद्र मोदी व नीतीश कुमार सरकार क्यों नहीं समझ रही है?

कोरोना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की बैठक, कहा - पूरे देश में वैक्सीन पहुंचाने की व्यवस्था करें
X
पीएम नरेंद्र मोदी

युवा कांग्रेस जेईई-नीट परीक्षा को टलवाने के लिये लगातार नरेंद्र मोदी नीत सरकार पर दबाव बना रही है। साथ ही बिहार युवा कांग्रेस इसको लेकर नरेंद्र मोदी और बिहार सरकार को भी कोस रही है। इसी कड़ी में युवा कांग्रेस के बिहार प्रदेश अध्यक्ष गुंजन पटेल ने रविवार का ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के सीएम नीतीश कुमार को घेरा है। गुंजन पटेल ने कहा कि हम लोगों की भी इच्छा है कि सभी बच्चों की पढ़ाई पटरी पर लौट आये। वहीं गुंजन ने कहा कि पर गांव-कस्बों में रहने वाले छात्रों के लिए तो मौजूदा हालातों कोरोना, लॉकडाउन व बाढ़ के बीच परीक्षा सेंटर तक पहुंचना ही बेहद मुश्किल काम है। गुंजन ने सवालिया अंदाज में कहा कि क्या इतनी समझ नरेंद्र मोदी-नीतीश कुमार सरकार को नहीं है?



केंद्र सरकार ने छह सालों में कितने नये स्कूल-कॉजेल बनाये, बतायें: युवा कांग्रेस

बिहार युवा कांग्रेस के नेता मनजीत आन्नद साहू ने ट्वीट कर केंद्र सरकार के खिलाफ निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि करीब 500 से अधिक नए भाजपा कार्यालयों का निर्माण कराने वाली केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार बीते छह साल के भीतर देश भर में कितने स्कूल - कॉलेज और अस्पताल बना सकी है? वहीं उन्होंने बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी से भी पूछा है कि सूबे में कितने नये स्कूल-कॉलेज और अस्पताल बनबाये गये हैं। अंत में मनजीत अन्नद साहू ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पर भी इन्हीं बातों को लेकर निशाना साधा है।



'अनियोजित कार्यपालक सहायक' की नियुक्ति क्यों रुकी हुई है: राजद

गोपालपुल विधानसभा से राजद कार्यकर्ता शैलेश कुमार यादव ने ट्वीट कर बेरोजगारी को लेकर बिहार सरकार को घेरा है। उन्होंने कहा कि 'अनियोजित कार्यपालक सहायक' की नियुक्ति क्यों रुकी हुई है? उन्होंने कहा कि चयनित अभ्यर्थियों ने कर्ज़ ले कर 'लेपटोप प्रिंटर' आदि खरीदा था कि उनका नियोजन होगा पर सरकार इनको अंधेरे में रखे हुए है।




Next Story